खास खबरमध्य प्रदेश

अतिरिक्त महानिदेशक ने किया केन्द्रीय जेल का निरीक्षण


जबलपुर :अतिरिक्त महानिदेशक जेल (पूर्व) एवं सुधारात्मक सेवाएं आशुतोष राय ने आज नेताजी सुभाषचंद्र बोस केन्द्रीय जेल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय गोपाल ताम्रकार, जेल उप महानिरीक्षक (प्रभारी) जबलपुर-रेंज एवं जेल के समस्त अधिकारी उपस्थित थे। निरीक्षण के दौरान श्री राय ने सुभाष वार्ड का अवलोकन किया और नेताजी सुभाषचंद्र बोस की शयन पट्टिका में पुष्प अर्पित किया।पाकशाला के भ्रमण के समय बंदियों के द्वारा भोजन तैयार किया जा रहा था। वर्तमान में नवनिर्मित एस.एस. किचिन (आधुनिक) का अवलोकन किया गया। भोजन की गुणवत्ता ठीक पाई गई। पश्चिमी खण्ड के वार्ड क्रमांक 14 एवं 15 तथा आइसोलेशन वार्ड जिसमें कोरोना महामारी को दृष्टिगत रखते हुये नवीन आमद के बंदियों को संक्रमण न फैले इस दृष्टि से पृथक-पृथक रखा गया है।वर्तमान में जबलपुर जेल कोरोना से मुक्त है। शासन एवं जेल मुख्यालय के द्वारा कोरोना महामारी से बचाव हेतु समय-समय पर निर्देश जारी किये गये है उनका अक्षरस: पालन किया जा रहा है। श्री राय ने इसकी प्रशंसा की। वर्तमान में नई आमद के बंदियों को 15 दिवस आइसोलेशन में रखने के बाद क्वारेंटाइन किया जाता है फिर बंदी की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही सामान्य बंदियों के साथ वार्डों में रखा जाता है।
निरीक्षण के दौरान बंदियों से चर्चा एवं उनकी समस्याएं पूछी गई एवं उनका निराकरण किया गया, महिला खण्ड में महिला बंदियों से उनकी समस्याओं के बारे में पूछा। जेल की व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली गई। श्री राय ने महिला बंदियों के साथ रह रहे बच्चों को अपने हाथों से बिस्किट प्रदान किया।
जेल के निरीक्षण के उपरांत जेल अधीक्षक के कार्यालय में सर्किल जेल के अधीनस्थ जेलों, जिला जेल कटनी, मण्डला, डिण्डोरी एवं सब जेल सिहोरा, सब जेल पाटन की वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सर्किल के अधीनस्थ जेल अधिकारियों से चर्चा की गई एवं उनकी जेल की व्यवस्थाओं के संबंध में जायजा लिया। जेल के नवीन कंट्रोल रूम के कक्ष का अवलोकन किया।अतिरिक्त महानिदेशक श्री राय ने सी.सी.टी.व्ही. के माध्यम से कैमरे से सम्पूर्ण जेल का संचालन देखा। पी.एम.एस., व्ही.एम.एस. एवं ई-कोट पेशी एवं जेल उत्पाद के आउटलेट का अवलोकन किया। बंदियों के द्वारा बनाये गये सामग्री जैसे- गमछा, चादर, दरियाँ, कारपेंट्री सामग्री को देखा और बंदियों के द्वारा बनाई गई सामग्री की सराहना की। अंत में कोरोना महामारी को देखते हुये वर्तमान में जेल अधीक्षक गोपाल ताम्रकार के द्वारा बंदियों को रखने हेतु आइसोलेशन कक्ष, क्वारेंटाइन कक्ष में जिस तरह से बंदियों को रखा जा रहा है। संक्रमण काल में व्यवस्थाओं के प्रति संतोष जाहिर किया गया एवं जेल के पूरे निरीक्षण में जेल की व्यवस्थाओं को उत्तम पाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close