इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन और व्ही व्ही पेट का पहले चरण का रेंडमाइजेशन सम्पन्न

शेयर करें:

जबलपुर ,लोकसभा चुनाव के लिये भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जिले को उपलब्ध कराई गई इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों और व्ही व्ही पेट मशीनों का प्रथम चरण का रेंडमाइजेशन आज कलेक्ट्रेट स्थित जिला सूचना केंद्र के वीडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष में सम्पन्न हुआ । मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में सम्पन्न हुए प्रथम चरण के रेण्डमाइजेशन में ईव्हीएम और व्हीव्हीपेट मशीनों को जबलपुर संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में शामिल आठों विधानसभा क्षेत्रों को आवंटित किया गया । मशीनों का रेंडमाइजेशन निर्वाचन आयोग द्वारा तैयार किए गए साफ्टवेयर ईव्हीएम मैनेजमेंट सिस्टम (ईएमएस) से किया गया रेण्डमाइजेशन की प्रक्रिया के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज, जिले की आठों विधानसभा क्षेत्रों के सहायक रिटर्निंग अधिकारी, अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सलोनी सिडाना, संयुक्त कलेक्टर नमः शिवाय अरजरिया तथा राजनैतिक दलों की ओर से श्री राजेश जायसवाल, श्री लक्ष्मण गुप्ता, श्री टीकाराम कोष्टा आदि एनआईसी के वीडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष में मौजूद थे । प्रारंभ में जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती भारद्वाज ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को ईव्हीएम और व्हीव्हीपेट मशीनों के प्रथम रेण्डमाईजेशन की प्रक्रिया तथा रेण्डमाईजेशन में इस्तेमाल किये जाने वाले साफ्टवेयर के बारे में जानकारी दी । उन्होंने लोकसभा चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा जिले को उपलब्ध कराई गई ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपेट मशीनों के बारे में भी राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को अवगत भी कराया । प्रथम चरण के रेण्डमाईजेशन में जबलपुर संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के आठों विधानसभा क्षेत्रों में मतदान हेतु ईव्हीएम मशीन की 2 हजार 557 कंट्रोल यूनिट , 2 हजार 557 बेलट यूनिट और 2 हजार 429 व्हीव्हीपेट मशीनें आबंटित की गई है । इनमें प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र को रिजर्व हेतु आबंटित 20 प्रतिशत बेलट यूनिट, 20 प्रतिशत कंट्रोल यूनिट तथा 14 प्रतिशत व्हीव्हीपेट मशीनें भी शामिल हैं। रेण्डमाइजेशन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों एवं रिटर्निंग अधिकारियों को विधानसभावार आबंटित मशीनों की सूची भी प्रदान की गई । मतदान कर्मियों के प्रशिक्षण एवं मतदाताओं को जागरूक करने के कार्य में प्रयुक्त बेलट यूनिट, कंट्रोल यूनिट एवं व्हीव्हीपेट को प्रथम चरण के रेण्डमाईजेशन में शामिल नहीं किया गया है ।