अपराधबड़ी खबरमध्य प्रदेश

ऑटो चालक की बेरहम पिटाई करने वाला मुख्य आरोपी,नेपाल बार्डर क्रॉस करने के पहले गिरफ्तार

जबलपुर :दिनदहाडे बर्बरता पूर्वक अमानवीय तरीके से गुण्डागर्दी कर एक्सीडेंट की घटना को लेकर आटो चालक के साथ मारपीट करने वाला मुख्य आरोपी अभिषेक दुबे उर्फ गुड़ी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, आरोपी नेपाल बार्डर क्रॉस कर भागने की फिराक में था,लेकिन जबलपुर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जलूस निकाला,

पकड़ा गया मुख्य आरोपी ,


1- अभिषेक दुबे उर्फ गुड़ी पिता स्व. कैलाशचंद्र दुबे उम्र 40 वर्ष निवासी नेता कालोनी थाना आधारताल
( अपराध हत्या, हत्या का प्रयास, अवैध वसूली, आम्र्स एक्ट, अवैध रूप से शराब बिकवाना तथा जुआ एवं सट्टा खिलवाना, मारपीट आदि के 14 अपराध पंजीबद्ध होकर न्यायालय में विचाराधीन हैं )

पूर्व में 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार आरोपी-


1- अक्षय शिवहरे पिता नरेश शिवहरे उम्र 21 वर्ष निवासी साई विहार कालोनी सुहागी अधारताल
2- मनोज दुबे  पिता बालेन्द्र कुमार दुबे उम्र 28 वर्ष निवासी लालमाटी घमापुर

फरार  आरोपी  

1- चंदन सिंह पिता बलवंत सिंह उम्र 32 वर्ष निवासी जय प्रकाश नगर अधारताल  
जप्ती- घटना में प्रयुक्त लाल रंग की स्विफ्ट कार  एवं बुलेट मोटर सायकल

ये है पूरा मामला

मामला दिनांक 11.10.2020 की शाम करीब 4.30 बजे का है जब एक्टिवा में सवार जा रहीं दो बहनों को शोभापुर ब्रिज के पास एक आटो जिसमें लोहे की सेंटिंग प्लेट रखी हुई थी के चालक अजीत विश्वकर्मा द्वारा लापरवाही पूर्वक वाहन चलाकर एक्टिवा गाड़ी में टक्कर मार दी जिससे एक्टिवा में सवार दोनों बहनें गिर पड़ी छोटी बहन को चोट आ गई जिस पर बड़ी बहन  द्वारा आटो चालक के द्वारा लापरवाही पूर्वक चलाते हुए टक्कर मारने की रिपोर्ट करने पर थाना आधारताल में अपराध क्रंमांक 970/2020 धारा 279,337 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया।वहीं दूसरी ओर आटो चालक अजीत विश्वर्मा ने स्वयं के साथ हुई मारपीट के सम्बंध में परिजनो के साथ थाना अधारताल में रिपोर्ट दर्ज करायी कि उसके आटो से एक्सीडेंट हो जाने पर लड़कियाॅ घायल हो गई थीं जिस पर चंदन सिंह , अभिषेक उर्फ गुडी , मनोज दुबे तथा अक्षय शिवहरे के द्वारा गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी देते हुए बेरहमी से मारपीट की गई है जिसकी रिपोर्ट पर थाना आधारताल में धारा 294,323,307,506,34 भादवि का प्रकरण कायम कर विवेचना में लिया गया।इसी बीच घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो जाने के कारण आरोपी अपने घरों से फरार हो गए। उक्त घटित हुई घटना की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा आरोपियों की तलाश पतासाजी कर अविलंब गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर (उत्तर) श्री अगम जैन (भा.पु.से.) एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षेक (दक्षिण/अपराध) श्री गोपाल खाण्डेल के मार्गनिर्देशन में नगर पुलिस अधीक्षक अधारताल श्री अशोक तिवारी के नेतृत्व में टीम गठित की जाकर आरोपी चंदन सिंह एवं अभिषेक दुबे तथा अन्य साथियो की तलाश करते हुये चदन सिंह तथा अभिष्ेाक दुबे के अन्य 2 साथी  अक्षय शिवहरे, निवासी सुहागी एवं मनोज दुबे निवासी लालमाटी  को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।

दस हजार का इनाम था घोषित,

वहीं प्रकरण के मुख्य आरोपी अभिषेक दुबे उर्फ गुड़ी एवं चंदन सिंह अपने घरों पर नहीं मिले जिनकी तलाश हेतु सभी संभावित स्थानों पर दबिश दी गई । प्रकरण के मुख्य आरोपी अभिषेक दुबे उर्फ गुडी पिता कैलाशचंद दुबे उम्र 40 वर्ष निवासी नेता कालोनी अधारताल एवं चंदन सिंह पिता बलवंत सिंह उम्र 32 वर्ष निवासी जय प्रकाश नगर अधारताल घटना वक्त से लगातार फरार थे  जिनकी सूचना देने व गिरफ्तारी में सहायता करने पर पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा 10,000-10,000/-(दस-दस हजार रूपये)  का ईनाम उद्घोषित किया गया था,

नेपाल बॉर्डर क्रॉस करने की फिराक में था आरोपी,

वहीं पुलिस को मुखबिरों से मिल रही लगातार सूचना एवं तकनीकी सहायता के आधार पर आरोपियांे का पीछा किया गया एवं घेराबंदी कर गाजियाबाद के पास एक लाल रंग की स्विफ्ट कार जिसमें अभिषेक उर्फ गुडी बैठा था ,जो नेपाल बार्डर क्रास करने की तैयारी मे था को पकड़ा गया,  जिसे हिरासत मेें लेते हुए थाना आधारताल जिला जबलपुर लाया गया एवं प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार कर आज दिनांक 16.10.2020 को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है फरार साथी चंदन सिंह की सरगर्मी से तलाश की जा रही है जल्द ही उसे भी गिरफ्तार किया जायेगा।


N.S.A मैं किया गया निरुद्ध

गिरफ्तार किए गए मुख्य आरोपी अभिषेक दुबे उर्फ गुड़ी जिसके विरुद्ध 14 अपराध पंजीबंद्ध होकर न्यायालय में विचाराधीन है जिसके विरुद्ध समय-समय पर प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गई किंतु आदतों में सुधार न लाकर लगातार अपराध घटित किये जा रहा था, जिसके स्वछंद विचरण करने से कभी भी किसी भी मानव के जीवन को खतरा उत्पन्न हो सकता है को दृष्टिगत रखते हुए अभिषेक दुबे उर्फ गुड़ी के विरुद्ध पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के निर्देश पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एन.एस.ए.) 1980 की धारा 3, सहपठित धारा 2 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करते हुए जिला दण्डाधिकारी जबलपुर के समक्ष प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया, जिला दण्डाधिकारी जबलपुर द्वारा आरोपी अभिषेक दुबे उर्फ गुड़ी की आपराधिक गतिविधियों को दृष्टिगत रखते हुए एन.एस.ए. के तहत केन्द्रीय जेल जबलपुर में निरुद्ध कराये जाने संबंधी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है, जिसमें भी विधिवत गिरफ्तारी की जा रही है।

उल्लेखनीय भूमिकाः-

सोशल मीडिया में मारपीट के वायरल हुए सनसनीखेज विडियों के मुख्य आरोपी अभिषेंक दुबे उर्फ गुड़ी को पतासाजी करते हुए सरगर्मी से तलाश कर 72 घंटे के अंदर गिरफ्तार करने मेें थाना प्रभारी बेलबाग अरविंद चैबे , उप निरीक्षक अनिल कुमार, महेन्द्र जायसवाल, महेन्द्र मिश्रा, गरिमा मिश्रा, चंद्रकांत झा, भरत बागरी, सायबर सेल उप. निरीक्षक नीरज नेगी, सहायक उप निरीक्षक राम सनेही शर्मा, प्रआर राजेश वर्मा , प्र.आर. धनंजय ंिसह, विजय शुक्ला, मृदुलेश शर्मा,मनोज गोस्वामी, संतोष पाण्डे, मोहन तिवारी,   आरक्षक ब्रजेन्द्र कसाना, बीरबल, मोहित उपाध्याय, दीपक तिवारी , मधु, विश्वजीत, नवनीत, कृष्णा, टेकवन, हितेन्द्र, पवन तिवारी, शुक्रभान,  शैलेन्द्र पटवा, मोहन थापा, विमल विश्वकर्मा, पंकज राजपूत, देवेन्द्र, आरक्षक आदित्य, अभिषेक, राजेश केवट, अजीत पटेल, अनूप, अजय, मानस, रवि सागर, अखिलेश, अनिल शर्मा, महिला आरक्षक वर्षा एवं निष्ठा की भूमिका अत्यन्त सराहनीय रही है। पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा पूरी टीम को नगद पुरस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close