खास खबरमध्य प्रदेश

कलेक्टर एवं एस.पी.  ने ईद पर्व को लेकर ली,शांति समिति की बैठक


जबलपुर :पुलिस कन्ट्रोल रूम में आज गुरूवार को कोविड-19 कोरोना वायरस महामारी को दृष्टिगत रखते हुये कलेक्टर भरत यादव एवं पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा की मौजूदगी में ईद पर्व को लेकर शांति समिति की बैठक संपन्न हुई ।  बैठक में नगर निगम कमिश्नर आशीष कुमार, ए.डी.एम. संदीप जी.आर,  ए.डी.एम. हर्ष दीक्षित,  अति.पुलिस अधीक्षक शहर अमित कुंमार, अति.पुलिस अधीक्षक उत्तर अगम जैन, अति0 पुलिस अधीक्षक शहर (दक्षिण) डॉ. संजीव उइके, एसडीएम-रांझी, गोरखपुर, अधारताल  भी मौजूद रहे ।बैठक में एस.के. मुईद्दीन, मनीष चार्ल्स, मोहम्मद ताहिर खान, गुड्डू नबी, गुरूचरण सिंह सलूजा, फुलबीर सिंह, गुलजीत सिंह साहनी, इंद्रजीत सिंह, मुफ्ती इल्तियाज कादरी, मौलाना अकबर अली, संतोष चौबे, अजीत सिंह,  विशाल नामदेव, रूपेश नायडू, अमीन कुरैशी, आजम अली खान, लईक अहमद राजू, ताहिर अली, मोह. सरवर खान, मुबारक कादरी, अकबर खान आदि उपस्थित थे।शांति समिति की बैठक में सौहार्द्रपूर्ण माहौल में भाईचारे के पर्व ईद को मनाने के लिए कई अहम् निर्णय लिये गये ।सभी ने अपने-अपने विचार रखे तथा अलग-अलग क्षेत्रों से सम्बंधित समस्याओं पर भी प्रकाश डाला गया, एवं व्यवस्थाओं के संबंध में महत्वपूर्ण सुझाव दिये गये, तथा कहा कि पुलिस एवं प्रशासन द्वारा पिछले दो माह से जबलपुर को इस महामारी से बचाये रखा गया है इसके लिये सभी ने बधाई दी ।  बैठक में उपस्थित सभी को कलेक्टर भरत यादव द्वारा बताया गया कि राज्य शासन के द्वारा जबलपुर जिले के केवल जबलपुर नगर निगम सीमा क्षेत्र को रेड जोन में शामिल किया गया है तथा जिले के शेष भाग को ग्रीन जोन की श्रेणी में रखा गया है।  अभी तक  सभी धर्म के लोगों ने कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर प्रशासन द्वारा जारी किये गये निर्देशों का कड़ाई के पालन करते हुये बहुत ही अच्छा सहयोग प्रदान किया है, आप सभी के बिना सहयोग के यह सम्भव नहीं हो पाता, ये महामारी विश्वव्यापी है, वक्त की गम्भीरता को समझने की जरूरत है ये लडाई लंबी है, आगे भी इसी तरह मिलकर लड़ना है, सभी समाज के धर्मगुरूओं का बहुत ही अच्छा सहयोग रहा है, हम सभी के आभारी हैं, कन्टेनमेंट एरिया में अभी और सख्ती करनी होगी, जिम्मेदार लोगों को आगे आना होगा, क्योंकि कन्टेनमेंट एरिया में एक पॉजिटिव केस आने से कन्टेनमेंट जोन की अवधि 21 दिन बढ़ जाती है।  हाई रिस्क के लोगों को शिफ्ट कराने में प्रशासन का सहयोग करें, क्योंकि हम सबको मिलकर लोगों की जान बचाना है, जन सहयोग करने मे संस्कारधानी सबसे आगे है, हाईवे पर बाहर से आ रहे मजदूरों को विभिन्न सामाजिक संगठनों के द्वारा हर संभावित मदद की जा रही है। बैठक में बताया गया कि इस बार ईद का त्यौहार 24 या 25 मई को मनाया जायेगा । शांति समिति के सदस्यों ने आग्रह किया गया कि  अभी तक पाँच लोग ही मस्जिद में नमाज अदा कर रहे हैं । इसी प्रकार ईद की नमाज भी पाँच लोग ही मस्जिदों में जाकर अदा करें । बाकी सभी लोग अपने घर पर ही ईद की नमाज पढें । आप सभी क्षेत्र वासियों को बतायें कि सामाजिक दूरी बनायें रखे, मास्क पहनें । कुछ असामाजिक तत्व सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट डालते है । ऐसे लोगों की आप तुरंत निकटतम थाने में सूचना दें । उनके विरुद्ध तत्काल विधिसम्मत कार्यवाही की जायेगी। बैठक में कंटेनमेंट क्षेत्र के रहवासियों को प्रशासन द्वारा घर-घर राशन वितरण व्यवस्था की जानकारी दी गई ।  कलेक्टर श्री यादव ने बताया कि ईद के मद्देनजर शेष बचे परिवारों को भी जल्दी ही राशन का प्रदान कर दिया जायेगा । श्री यादव ने इस अवसर पर मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति प्रकाश, साफ-सफाई एवं सेनिटाईजेशन के पर्याप्त इंतजाम करने के निर्देश निगम अधिकारियों को दिये ।          
बैठक में मौजूद मुस्लिम धर्म के सभी प्रतिनिधियों ने एकमत होकर पुलिस एंव प्रशासन को आश्वस्त किया कि जिस प्रकार, रामनवमी पर्व, महावीर जयंती, ईस्टर पर्व, बैसाखी पर्व को सादगी पूर्ण तरीके से घरों में ही रहकर मनाया गया है ठीक उसी तरह  ईद की नमाज भी घर में पढ़ी जायेगी । केवल पाँच लोग ही मस्जिद में नमाज पढेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close