खास खबरमध्य प्रदेश

कांग्रेसियों ने किसानों की समस्यायों को लेकर,सिहोरा एसडीएम को सोंपा राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन

जबलपुर :किसान खेत खलियान के खिलाफ केंद्र सरकार के घिनौने षड्यंत्र के तहत तीन काले कानून के माध्यम से देश की हरित क्रांति को हराने रची जा रही साजिश के विरोध में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी सिहोरा ने भारत के राष्ट्रपति के नाम के नाम एसडीएम सीहोरा को ज्ञापन सौंपा।देश के 62 करोड़ों किसान मजदूर एवं 250 से अधिक किसान संगठनों की आवाज को दबा कर केंद्र सरकार संघीय ढाचे संविधान संसदीय प्रणाली को दरकिनार कर बहुमत के आधार पर संसद के अंदर तीन काले कानून को बगैर चर्चा के पारित कर अनेक संदेह को जन्म दे रहा है।


2 एकड़ का किसान कहां ले जाएगा फसल


ब्लॉक कांग्रेस द्वारा सौंपे गए ज्ञापन के अनुसार केंद्र सरकार दावा कर रही है कि अब किसान अपनी फसल देश के किसी भी हिस्से में ले जाकर बेच सकेगा किंतु वास्तविकता यह है कि देश के 85% किसान 5 एकड़ से कम भूमि के मालिक हैं एवं जमीन की औसत मिल्कियत 2 एकड एवं उससे कम है ऐसे में छोटे किसान अपनी उपज नजदीकी मंडी के अलावा कहीं और ले जाकर कैसे बेच सकते हैं।


व्यवसाई प्रतिस्पर्धा होगी समाप्त


किसान को खेत के नजदीक अनाज मंडी में उचित दाम किसान के सामूहिक संगठन तथा मंडी के व्यापारियों की प्रतिस्पर्धा के आधार पर मिलता है अगर किसान की फसल को चंद्र कंपनियां मंडी में सामूहिक खरीदी के बजाय उसके खेत से खरीदेंगे तो फिर मूल्य निर्धारण एसएसपी भजन कीमत की सामूहिक मूल भाव की शक्ति समाप्त हो जाएगी


रोजी रोटी एवं आजीविका पर खतरा


मंडिया खत्म होते ही लाखों करोड़ों मजदूर अडतिया मूनीमो पल्लेदारों ट्रांसपोर्टरों आदि की रोजी-रोटी एवं अजीब का खतरे में पड़ जाएगी इसके साथ ही मंदिरों के समाप्त होते ही प्रांतों की आय भी प्रभावित होगी।


बड़ेगी जमाखोरी एवं कालाबाजारी


कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि कृषि उत्पाद खाने की चीजें फल फूल सब्जी की स्टॉक लिमिट पूरी तरह हटाने से ना तो किसानों का और ना ही उपभोक्ता का कोई फायदा होगा इसका सीधा लाभ जमाखोरी एवं कालाबाजारी करने वाले मुट्ठी भर चंद लोगों को ही होगा।महामारी की आड़ में किसानों की आपदा को पूंजी पतियों के अवसर में बदलने थोपे जा रहे तीनों काले कानूनों को बगैर देरी निरस्त करने की मांग ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष जितेंद्र श्रीवास्तव अमोल चौरसिया ममता गोटिया जानकी प्रसाद दीपक तिवारी सचिन श्रीवास्तव इमाम खान सोनू त्रिपाठी अविनाश शुक्ला शंकर बंशकार आदि ने ज्ञापन सौंपकर की है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close