काम की तलाश में सुपरवाईजर ने फांसी लगाकर कर ली आत्महत्या

शेयर करें:

जबलपुर ,एक कंपनी से सुपरवाईजर पद छोड़ने के बाद काम की तलाश व्यक्ति की मौत में बदल गई और उसने फाँसी लगाकर आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया हलाकि व्यक्ति ने आत्महत्या जैसा कदम क्यों उठाया पुलिस इसकी जांच कर रही है पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक थाना विजय नगर में दिनॉक 6-4-19 को रोहित अहिरवार उम्र 30 वर्ष निवासी विकास नगर ने सूचना दी कि वह इजीनियरिंग इनोवेशन कम्पनी का संचालक है जिसका गेस्ट हाउस विकास नगर मे स्थित है, जहॉ पर अपने भतीजे व अन्य कर्मचारियों के साथ रहता था, वहीं पर धर्मेश कुमार उर्फ अमृत उम्र 45 वर्ष रहता था जो कम्पनी मे सुपरवाईजर के पद पर था जिसने कम्पनी से काम छोड दिया था, तथा अन्य जगह काम करने की तलाश मे था । आज दिनॉक 6-4-19 को सुबह 7-30 बजे देखा तो धर्मेश कुमार बरामदे मे लोहे के पाईप से गमछा से गले मे फांसी लगाये हुये लटका था जिसकी मृत्यु हे चुकी थी। सूचना पर पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर जांच में लिया गया