अपराधबड़ी खबरमध्य प्रदेश

क्राईम पेट्रोल देखकर युवती ने बनाई 20 लाख की फिरौती माँगने की योजना

जबलपुर :टी वी में क्राईम पेट्रोल का सीरियल देखकर युवती ने पहले तो एस.एम.एस. के माध्यम से अधिवक्ता को जान से मारने की धमकी दी फिर उससे 20 लाख रूपये की फिरौती मांग की फरियादी की शिकायत पर पुलिस ने जब जांच सुरु की तो पूरे मामले से पर्दा उठ गया और अब आरोपी युवती पुलिस की गिरफ्त में है कंट्रोल रूम में प्रेस वार्ता आयोजित कर एसपी अमित सिंह ने बताया की थाना गोराबाजार मे दिनाॅक 14-9-19 को रात 11-45 बजे अधिवक्ता संजय लाल कटारिया उम्र 45 वर्ष निवासी थीम पार्क तिलहरी ने लिखित शिकायत की थी की दिनाॅक 14-9-19 को उसकी भांजी एवं पिताजी के मोबाईल पर अज्ञात नम्बर से काॅल आया, रिसिव करने पर कोई जवाब नहीं मिला, तब उसने अपने दोस्त के मोबाईल से उक्त नम्बर पर काॅल किया, जिसके बाद दूसरे नम्बर से मैसिज आने लगे, जिसमें उसके द्वारा पैसेा कीं मांग को लेकर धमकी दी गयी, और बबलू पण्डा गैंग से सम्बंध होना बताया गया तथा एसएमएस द्वारा यह भी धमकाया कि पैसा नहीं देने के एवज में उसकी बहन को कुछ हो जाने की दशा मे उसकी छोटी बच्ची बिना मॅा की बच्ची हो जायेगी, अगर पैसा नहीं पहुंचा तो दशहरा, दीवाली रोते हुये मनाओगे, उसे हमारे परिवार के सदस्यो की टाईमिग का पता है कि कौन , किधर, कब जाता है, उसने पिता को केयर स्माॅल फायनेंस बैंक लिमिटेड नागेश प्रभाकर पाटिल के नाम का एकाउंट नम्बर दिया है एवं 2 दिन के अंदर 20 लाख रूपये जमा करने को कहा है, यदि पैसे जमा नहीं किये तो परिवार के सदस्यो को जान से मारने की धमकी दिया है। फरियादी की रिपोर्ट पर पुलिस ने धारा 386 अपराध पंजीबद्ध करते हुए मामले की जांच सुरु कर दी थी

क्राईम पेट्रोल देखकर बनाई थी योजना ,

वहीं मामले की जानकारी लगते ही एसपी अमित सिंह ने आवश्यक दिशा निर्देश देते हुये प्रकरण मे आरोपी का पर्दाफाश करने का दायित्व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (यातायात) अमृत मीणा, नगर पुलिस अधीक्षक केन्ट अखिल वर्मा एवं थाना प्रभारी गोराबाजार उ.नि. उमेश गोल्हानी को सौंपा।
उपरोक्त पुलिस अधिकारियों के द्वारा फरियादी एवं साक्षियों के बयानों के आधार पर सायबर सेल की मदद से विषेष प्रयास कर मामले की आरोपिया को दस्तयाब कर हिरासत में लिया गया तथा सख्ती से पूछताछ की गयी जिस पर पूरे प्रकरण का पर्दाफाश हो गया।जांच में आये साक्ष्य के आधार पर पाया गया की फरियादी के मकान के करीब 200 मीटर पीछे मनोज कुशवाहा के मकान में किराये से रहने वाली कु0 यशोदा धुर्वे विगत एक वर्ष से फरियादी के फ्लैट के बाजू में निवास करने वाले रघुसिंह के यहाॅ खाना बनाने आती थी, जो फरियादी एवं उनके परिवार के सदस्यों को अच्छी तरह से जानती थी। यशोदा प्रतिदिन क्राईम पेट्रोल देखती थी जिससे प्रभावित होकर रातों-रात लखपति बनाने की मन्शा से उसने स्वयं योजना बनाकर उक्त घटना को अंजाम दिया।
करीब चार साल पहले यशोदा की फेसबुक के जरिये बड़ोदरा (गुजरात) निवासी नागेश पाटिल से दोस्ती हो गयी थी, नागेश पाटिल कभी-कभी यशोदा से मिलने जबलपुर आता जाता था, यशोदा ने योजना बनाकर नागेश पाटिल की सिम तथा खाता नम्बर ले लिया था तथा उसी सिम को अपने मोबाइल में लगाकर उसके जरिये 16 अगस्त 19 से 16 सितम्बर 19 तक लगातार फरियादी संजय लाल के पिता ताराचंद एवं भांजी के मोबाइल पर एस.एम.एस. कर जान से मारने की धमकी देकर स्वयं को बबलू पण्डा जो कि थाना गोराबाजार अंतर्गत बिलहरी क्षेत्र का शातिर गुण्डा बदमाश है जिसके विरूद्ध हत्या, हत्या का प्रयास, अपहरण, अवैध वसूली आदि के कई गम्भीर प्रकरण पंजीबद्ध होकर न्यायालय में विचाराधीन है की गैंग का होना बताकर डरा धमका कर 20 लाख रूपये बताये हुये खाता नम्बर में डलवाना चाहती थी।
उल्लेखनीय भूमिका- अति. पुलिस अधीक्षक यातायात अमृत मीणा, न.पु.अ. कैंट अखिल वर्मा, के मार्ग दर्शन में थाना प्रभारी गोराबाजार उप निरीक्षक उमेश गोल्हानी एवं सायबर सेल के उप निरीक्षक नीरज सिंह नेगी, आरक्षक राजेेश शर्मा, उपेन्द्र गौतम, आदित्य परस्ते, गुड्डू सिंह, योगेश एवं महिला आरक्षक रेणुका तथा लिली की सराहनीय भूमिका रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close