खास खबरमध्य प्रदेश

गंदगी भारत छोड़ो” अभियान में नगरीय निकायों की होगी रैंकिंग

किसी भी शहर में नहीं दिखे कचरे का ढेर : नगरीय विकास मंत्री भूपेन्द्र सिंह

जबलपुर :नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा है कि प्रदेश के सभी शहरों को कचरा मुक्त बनायें। किसी भी शहर में कचरे के ढ़ेर नहीं दिखने चाहिए। उन्होंने कहा कि ”गंदगी भारत छोड़ो-मध्यप्रदेश” अभियान में 16 से 30 अगस्त तक नगरीय निकायों द्वारा किये गये कार्यों के आधार पर उनकी रैंकिंग की जायेगी। अच्छी रैंक पाने वाले निकायों को सम्मानित किया जायेगा। श्री सिंह ने कहा कि रैंकिंग किसी एजेंसी या नगरीय प्रशासन एवं विकास संचालनालय के अधिकारियों की टीम द्वारा की जाय।
नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री सिंह ने कहा कि 16 से 30 अगस्त तक चलने वाले अभियान में प्रत्येक दिन अलग-अलग जिलों में कोई न कोई स्वच्छता से जुड़ा हुआ कार्यक्रम रखा जाय। इसमें जन-प्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जाय। उन्होंने कहा किकुछ ऐसे कार्य करें कि लागों को लगे कि कुछ अलग हो रहा है। छोटे शहरों और अन्य शहरों जहाँ कचरा निपटान की व्यवस्था नहीं है, वहाँ के लिए एक सप्ताह में प्लान बनायें। कचरा प्रबंधन के लिए पीपीपी मोड या शासकीय स्तर पर प्लांट लगाने पर विचार करें
गौरतलब है कि ‘गंदगी भारत छोड़ो-मध्यप्रदेश’ अभियान में शहरों में व्यक्तिगत तथा सार्वजनिक शौचालयों की साफ-सफाई और कचरा प्रबंधन पर नागरिकों को संवेदित और जागरूक किया जायेगा। अभियान में 16 से 18 अगस्त तक स्वच्छता शपथ एवं व्यक्तिगत शौचालयों का रखरखाव और सफाई पर अशासकीय संगठनों के माध्यम से झुग्गीबस्तियों एवं अन्य मुहल्लों में नागरिकों से चर्चा की जायेगी। अभियान में 19 से 21अगस्त तक नो प्लास्टिक और रिसाइकिल, रियूज, रिड्यूज और रिफ्यूज (चार-आर) के संबंध में निकायों, युवाओं और विद्यार्थियों से ऑनलाइन संवाद और परिचर्चाओं का आयोजन किया जायेगा। नागरिक संगठनों एवं जन-प्रतिनिधियों के माध्यम से बाजारों और सार्वजनिक स्थलों पर प्लास्टिक प्रतिबंध के संबंध में जागरूकता गतिविधियाँ आयोजित की जायेंगी।
अभियान में 22 से 24 अगस्त तक कोविड-19 के संबंध में लोगों को नेपकिन और उपयोग किये गये मास्क आदि के सुरक्षित निपटान के संबंध में जागरूक किया जायेगा। नगरीय निकाय द्वारा क्वारेंटाइन केन्द्रों की स्वच्छता, मास्क पहनने की समझाइश और निकायों में सफाईकर्मियों को सम्मानित करने का कार्य किया जायेगा। अभियान में 25 से 27 अगस्त तक आवासीय परिसरों में स्रोत पर अपशिष्ट पृथक्कीकरण, घरेलू हानिकारक कचरे का सुरक्षित निपटान करने के संबंध में जन-जागरूकता के साथ ही स्व-सहायता समूह के सदस्यों एवं आवासीय संघों से चर्चा की जायेगी। अंतिम चरण में 28 से 30 अगस्त तक निकायों एवं सहयोगी संगठनों के सहयोग से स्वच्छता श्रमदान तथा निकायों द्वारा सभी सार्वजनिक शौचालयों के अंदर और बाहर विशेष सफाई अभियान चलाया जायेगा।
नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री सिंह ने कार्यक्रमों में मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करने तथा कंटेनमेंट जोन में यह गतिविधियाँ नहीं करने के निर्देश दिये हैं। जहाँ भी ये कार्यक्रम किये जायें, वहाँ दान-दाताओं से प्राप्त मास्क वितरित करने के लिये स्टॉल लगाये जायें। गतिविधियों की नियमित रिपोर्टिंग की जाये। इसके लिये गूगल लिंक नगरीय प्रशासन एवं विकास संचालनालय से जारी की जायेगी। अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार कर नागरिकों को जागरूक एवं प्रोत्साहित किया जाये। बैठक में प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास श्री नीतेश व्यास और आयुक्त नगरीय नगरीय प्रशासन एवं विकास श्री निकुंज श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close