गाँजे के धुएं से नशीला हुआ सिहोरा पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठ रहे सवाल

शेयर करें:

जबलपुर ,लोकसभा में भले ही एसपी साहब थाना प्रभारियों की बैठक लेकर निर्देश देते रहे की मादक और नशीले पदार्थो पर कार्यवाही करो लेकिन सिहोरा पुलिस को लगता है एसपी साहब के निर्देश पालन करने में कोई खास दिलचस्पी नहीँ है तभी तो नगर में गाँजे का व्यापार खूब धड़ल्ले से फल फूल रहा है सूत्रों की मानें तो गाँजा का व्यापार सिहोरा नगर में पूरे चुनाव के समय फलता फूलता रहा यहाँ तक की सिहोरा थाने के ठीक सामने एनएच7 के पार मन्दिर से गाँजा का व्यापार काफी समय से फल फूल रहा है बताया जा रहा है की इस गाँजा व्यपारी का घर थाने के बगल में ही लगा है उसके बाद भी पुलिस के हाथ आज तक नशे के इस कारोबारी की गर्दन तक नहीँ पहुँच सके है हलाकि गाँजा का व्यपार सिहोरा के कोने -कोने तक फैला हुआ है जिसमें मर्गनयनी रोड़ ,सय्यद बाबा की टोरिया ,बाबताल मन्दिर के सामने ,कटरा मोहल्ला ,सहित कई ऐसी जगहों पर गाँजे का कारोबार खूब फल -फूल रहा है लेकिन पुलिस को इन सब जगहों पर बिक रहे गाँजे की खबर पता होते हुए भी पुलिस हाथ पर हाथ रख कर बैठी हुई है इस बात से ही सिहोरा पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़े होते है की आखिर पुलिस इन नशे के अवैध अड्डो पर कार्यवाही क्यों नहीँ कर रही है

युवा के साथ किशोर भी गाँजे की गिरफ्त में

वहीं सूत्रों की मानें तो नगर के कई युवा सहित किशोर भी गाँजे की गिरफ्त में आते जा रहे है किसकी बजह है नगर में ही सुगमता से उपलब्ध हो रहा गाँजा नतीजन देश के भविष्य पर नशे का बुख़ार सर चढ़ता जा रहा है इन नशे की दुकानों पर कब तक पुलिस नकेल कसेगी देखना होगा