चुनाव ड्यूटी में लगे अधिकारियों-कर्मचारियों को देना होगा घोषणा पत्र

शेयर करें:

जबलपुर : भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार चुनाव ड्यूटी में तैनात प्रत्येक अधिकारी और कर्मचारी को इस आशय का घोषणा पत्र देना होगा कि वो वर्तमान चुनाव में किसी प्रत्याशी तथा राज्य या जिला स्तर के किसी अग्रणी राजनैतिक कार्यकर्त्ता का नजदीकी रिश्तेदार नहीं है । निर्वाचन आयोग के मुताबिक चुनाव ड्यूटी में तैनात अधिकारियों-कर्मचारियों को घोषणा पत्र में यह जानकारी बिन्दु क्रमांक-एक में देनी होगी । जबकि घोषणा पत्र के प्रारूप के बिन्दु क्रमांक-दो में उसे यह भी बताना होगा कि उसके विरूद्ध कोई आपराधिक प्रकरण किसी भी न्यायालय में प्रचलित नहीं है । यदि चुनाव ड्यूटी में तैनात कर्मचारी की नजदीकी रिश्तेदारी चुनाव लड़ रहे अभ्यर्थी या अग्रणी राजनैतिक कार्यकर्त्ता से है अथवा उसके विरूद्ध आपराधिक प्रकरण किसी न्यायालय में प्रचलित है तो उसे इन दो बिन्दुओं की जानकारी तत्काल जिला निर्वाचन कार्यालय को देना होगी । जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर ने इस बारे में कार्यालय प्रमुखों तथा सहायक रिटर्निंग अधिकारियों एवं नोडल अधिकारियों को चुनाव ड्यूटी में तैनात सभी कर्मचारियों-अधिकारियों का घोषणा पत्र दो दिन के भीतर निर्वाचन कार्यालय को भेजने के निर्देश दिये हैं ।