अपराधमध्य प्रदेश

जंगल मे बन रही थी कच्ची शराब,पुलिस ने की कार्यवाही

जबलपुर :जंगल के बीचोबीच अवैध रूप से कच्ची शराब बनाई जा रही थी ,भनक लगते ही गधेरी के जंगल पहुँची खमरिया पुलिस ने कच्ची शराब उतारने के ठिकानों पर दबिश,देते हुए कच्ची शराब बनाने वाले ड्रमों में भरा हुआ लगभग 4800 लीटर लाहन नष्ट करते हुये, तैयार की हुई 10 लीटर कच्ची शराब जप्त, फरार 2 आरोपियेां की तलाश सुरु कर दी है,पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा अवैध मादक पदार्थ एवं अवैध शराब तथा अवैध हथियार के कारोबार मे लिप्त आरोपियेां को चिन्हित करते हुये प्रभावी कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया है,आदेश के परिपालन में अति. पुलिस अधीक्षक उत्तर अगम जैन, एवं नगर पुलिस अधीक्षक रांझी कौशल सिंह के मार्ग निर्देशन मे थाना प्रभारी खमरिया, उप निरीक्षक सुश्री निरूपा पाण्डे के नेतृत्व में टीम गठित कर गधेरी के जंगलों में दबिश देने हेतु लगाया गया।

भारी मात्रा में लाहन नष्ट ,

वहीं गठित टीम के द्वारा पतासाजी करते हुये विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर दिनाॅक 16 एवं 17 जुलाई 2020 को गौरा नदी के किनारे सुखलालपुर के पास स्थित जंगल में एवं गधेरी के पारसपानी जंगल में दबिश दी गयी, गौर नदी के किनारे कच्ची शराब बनाने हेतु तेैयार किये जा रहे  लगभग 2200 लीटर लाहन को जो प्लास्टिक के ड्रमों में भरा हुआ था, नष्ट किया गया तथा आज दिनाॅक 17-4-2020 को गधेरी के पारसपानी जंगल में दबिश दी गयी जहाॅ ग्राम गधेरी निवासी अनिल यादव एवं रामपाल यादव कच्ची शराब उतारते हुये दिखे जो पुलिस को देखकर जंगल मे भाग गये, प्लास्टिक की कुप्पियों मे उतरी हुई लगभग 10 लीटर कच्ची शराब मिली, आसपास तलाशी ली गयी तो कच्ची शराब बनाने हेतु लगभग 2600 लीटर लाहन प्लास्टिक के ड्रमों में भरा हुआ मिला, 10 लीटर कच्ची शराब जप्त करते हुये 2600 लीटर लहन नष्ट किया गया। दोनो आरोपियेा के विरूद्ध धारा 34 आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुये फरार दोनों आरोपी अनिल यादव एवं रामपाल यादव की सरगर्मी से तलाश जारी है। 

उल्लेखनीय भूमिका,

थाना प्रभारी खमरिया उप निरीक्षक निरूपा पाण्डे, उप निरीक्षक प्रकाश सोलंकी, सहायक उप निरीक्षक विनोद पटेल, आरक्षक योगेन्द्र, नीलकंठ, शमशेर बहादुर, गौरव, आशीष , वशिष्ठ की सराहनीय भूमिका रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close