जब प्रशासन सुस्त तो रेत माफिया चुस्त

शेयर करें:

जब रक्षक ही भक्षक से मिलकर काम कर रहे हो तब क्या होगा ?

जबलपुर :सिहोरा के आलगोडा रमखिरिया सहित हिरन के कूम्ही सतधारा सहित अन्य घाटों को रेत माफ़ियां खोखला कर रहे है लेकिन प्रशासन है की इतना सुस्त हो गया है की उसको जानकारी होते हुए भी इन रेत माफ़ियों पर नकेल कसने में सिहोरा का स्थानीय प्रशासन फेल नजर आ रहा है तो वहीँ माईनिंग विभाग वोटिंग के गिनती की दुहाई देकर रेत माफ़ियों पर कार्यवाही से बचता नजर आ रहा है अब ऐसे में प्रशासन की सुस्त प्रणाली के चलते रेत माफिया चुस्त है ऒर धड़ल्ले से रेत चोरी की जा रही है तो वहीँ सूत्रों की मानें तो कानून के रखवालों ने भी रेत माफ़ियों को खुली छूट दे रखी है जिसका जीता जागता उदाहरण दो दिन पूर्व देखने को मिला जब गोलसपुर पुलिस को आलगोडा पंचायत के पीछे हो रहे रेत के अवैध उत्खनन की जानकारी दी गई तो कुछ ही देर बाद शिकायतकर्ता के पास रेत माफिया का फोन आ गया रेत माफिया ने पीड़ित को धमकाते हुए कहा की तुमने थाने में शिकायत की है यहाँ से से रेत के निकाल रहा हूँ थाने से फोन आया था की तुम्हारी शिकायत फला व्यक्ति ने की है “अब ऐसे में आम जनता किस पर विस्वास करे और खुद सेफ्टी कैसे करे जब रक्षक ही भक्षक से मिलकर काम कर रहे हो तब ऐसे में आमजन का विस्वास कानून से उठता जा रहा है जिसपर बरिष्ठ अधिकारियों को जल्द ध्यान देना होगा वरना जनता का विस्वास कानून से उठ जाएगा