खास खबरमध्य प्रदेशस्वास्थ्य

जिला अस्पताल में सोमवार से शुरू होगी सभी स्वास्थ्य सुविधायें,कलेक्टर ने किया निरीक्षण

कोरोना से निपटने की भविष्य की तैयारियों का भी लिया जायजा

जबलपुर,जिला अस्पताल (विक्टोरिया) में सोमवार से आम लोगों के लिए सभी तरह के रोगों की
उपचार की सुविधायें एवं ओपीडी प्रारंभ हो जायेंगी ।  अस्पताल में गंभीर रोगों से ग्रसित लोगों
का इलाज भी होगा शल्य चिकित्सा भी की जायेगी । डायलिसिस जैसी सुविधायें भी उपलब्ध
होंगी । इसके साथ ही जिला अस्पताल में सभी काम-काज सामान्य दिनों की तरह प्रारंभ हो
जायेंगे ।कलेक्टर भरत यादव ने आज देर शाम जिला अस्पताल का निरीक्षण कर अस्पताल में
सोमवार से आम लोगों के लिए शुरू की जा रही सभी स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए की गई
व्यवस्थाओं का जायजा लिया ।इस दौरान श्री यादव ने विक्टोरिया अस्पताल में मंगलवार से जिला मेडिकल बोर्ड की
नियमित बैठक आयोजित करने के निर्देश दिये हैं ।  उन्होंने अस्पताल में कोरोना से भविष्य में
निपटने की जिला अस्पताल की तैयारियों का निरीक्षण भी किया । उन्होंने अस्पताल में माइल्ड
कोरोना पेशेंट के लिए बनाये गये आइसोलेशन वार्डों का भी जायजा लिया । अस्पताल में संदिग्ध
कोरोना पेशेंटों के अलावा कोरोना के माइल्ड लक्षण वाले रोगियों के लिए 150 बिस्तरों के
आइसोलेशन वार्ड बनाये गये । श्री यादव ने इस मौके पर चिकित्सा अधिकारियों को कोरोना के
संदिग्ध पेशेंट और माइल्ड पॉजिटिव केस के लिए बनाये गये आइसोलेशन वार्ड के आने-जाने की
व्यवस्था अलग से करने के निर्देश दिये । उन्होंने कहा कि कोरोना के सेम्पल लेने वाले एवं
पॉजिटिव पेशेंटों के इलाज में लगे स्टॉफ में मिक्सिंग   न हो इस पर खास ध्यान दिया जाना
होगा ।कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान जिले में बनाये गये फीवर क्लीनिकों की ओपीडी में आये
मरीजों की संख्या की जानकारी भी ली । उन्होंने फीवर क्लीनिकों की संख्या बढ़ाने और वहां से
प्राप्त डेटा के आधार पर संदिग्ध मरीजों के सेम्पल लेने के निर्देश भी दिये । श्री यादव ने जिले
के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी सामान्य दिनों की तरह
आम लोगों को सोमवार से स्वास्थ्य सुविधायें प्रारंभ करने के निर्देश भी दिये ।
एक-दो दिन के भीतर शुरू हो जायेगी विक्टोरिया में कोरोना सेम्पल के परीक्षण की शुरूआत:

कोरोना के संदिग्ध मरीजों के थ्रोट स्वाब के सेम्पल के परीक्षण की सुविधा जिला
अस्पताल में भी एक-दो दिन के भीतर प्रारंभ हो जायेगी । यह जानकारी आज शाम को कलेक्टर
भरत यादव के जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान दी गई । इस दौरान बताया गया कि
विक्टोरिया अस्पताल में कोरोना संदिग्धों के थ्रोट स्वाब के सेम्पल की परीक्षण के लिए एक
मशीन (ट्रू-नेट) आ चुकी है तथा दो और ट्रू-नेट मशीनें एक-दो दिन के भीतर आ जायेंगी ।
प्रत्येक मशीन से हर दो घंटे में दो सेम्पल का परीक्षण किया जा सकेगा ।

कलेक्टर श्री यादव ने विक्टोरिया अस्पताल में कोरोना टेस्टिंग की सुविधा को प्रारंभ करने
के लिए मशीनों के साथ-साथ उपलब्ध मानव संसाधन तथा लैब टेक्नीशियन और उनके प्रशिक्षण
आदि के बारे में भी जानकारी ली ।  कलेक्टर को बताया गया कि कोरोना के सेम्पल के परीक्षण
के लिए अस्पताल के टेक्निशियनों को आईसीएमआर लैब से प्रशिक्षण दिलाया जा चुका है ।
कलेक्टर ने विक्टोरिया अस्पताल के निरीक्षण के दौरान अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, मुख्य
चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनीष मिश्रा एवं सिविल सर्जन डॉ. आर.के. चौधरी भी मौजूद थे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close