जिला प्रशासन व नगर निगम की संयुक्त टीम पहुँची कोचिंग संस्थान

शेयर करें:

सुरक्षा इंतजामों के प्रति लापरवाह कोचिंग संस्थानों पर लगा जुर्माना

दो दिन के भीतर अग्निशमन यंत्र सहित जरूरी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश

जबलपुर :सूरत की घटना के बाद जबलपुर प्रशासन अलर्ट हो गया जिसके चलते सोमवार के दिन जिला प्रशासन और नगर निगम की संयुक्त टीमों ने कलेक्टर छवि भारद्वाज के निर्देश पर शहर में संचालित विभिन्न कोचिंग संस्थानों की आज आकस्मिक जांच की तथा सुरक्षा इंतजामों की अनदेखी किये जाने पर अर्थदंड अधिरोपित कर इन संस्थानों को दो दिन के भीतर छात्रों की सुरक्षा के लिहाज से अग्निशमन यंत्र सहित सभी जरूरी व्यवस्थायें सुनिश्चित करने की कड़ी चेतावनी दी है । कोचिंग संस्थानों की जांच के लिए गठित संयुक्त दल में संयुक्त कलेक्टर नम:शिवाय अरजरिया, नगर निगम के उपायुक्त राकेश अयाची, एसडीएम ओमती आशीष पांडे तथा प्रशासन एवं नगर निगम के अन्य अधिकारी शामिल थे । कोचिंग संस्थानों की जांच के लिए गठित दल द्वारा राईट टाउन स्थित मोमेंटम क्लासेस, वर्धमान आईएएस अकेडमी, कौटिल्य एकेडमी, गौतम एकेडमी, समीर सर क्लासेस, रेडियेंस, पराग, एक्स्ट्रा मार्क्स आदि कोचिंग संस्थानों का निरीक्षण किया गया ।
निरीक्षण में रेडियंस, एक्स्ट्रा मार्क्स के अलावा शेष सभी संस्थानों में अग्निशमन यंत्र नहीं पाये गये । मोमेंटम क्लासेस में केवल एक अग्निशमन यंत्र पाया गया उसकी भी मियाद खत्म हो चुकी थी । जांच दल ने सभी संस्थानों को दो दिन का नोटिस जारी कर अग्निशमन यंत्र सहित सुरक्षा के सभी जरूरी इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं ।
जांच की कार्यवाही में अधिकांश संस्थानों में छात्र संख्या के अनुपात में शौचालयों की व्यवस्थायें भी नहीं थी, जो शौचालय थे वे भी छोटे थे और उनमें साफ-सफाई का अभाव था । केवल दो संस्थानों को छोड़कर शेष सभी संस्थानों पर शौचालयों की अपर्याप्त व्यवस्था के कारण 30-30 हजार रूपये का मौके पर ही अर्थदंड अधिरोपित किया गया । इसके अलावा सभी संस्थानों को कक्षाओं के प्रवेश द्वारों की चौड़ाई बढ़ाने के निर्देश भी संस्थान संचालकों को जांच की कार्यवाही के दौरान दिये गये । कोचिंग संस्थानों के संचालकों को चेतावनी भी दी गई है कि यदि जरूरी सुरक्षा इंतजाम नहीं किये गये तो उनके संस्थान को बंद करने की कार्यवाही की जायेगी । संयुक्त दल की आकस्मिक कार्यवाही में वर्धमान और कौटिल्य एकेडमी सहित एक अन्य संस्थान में घरेलू रसोई गैस सिलेंडर भी पाये गये । इस रसोई गैस सिलेंडरों को जप्त कर खाद्य विभाग के सुपुर्द कर दिया गया है । घरेलू रसोई गैस के दुरूपयोग के मामले में इन सेंटरों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज करने के निर्देश भी दिये गये हैं ।