अपराधमध्य प्रदेश

टैंक में हुई मौत को एक्सीडेंट बनाने सड़क में डाल दिये थे युवकों के शव,5 आरोपी गिरफ्तार 2 फरार

जबलपुर : दो मजदूर युवकों की टैंक में गिरने से हुई मौत को एक्सीडेंट बनाने दोनों के शवों को सड़क में फेंक दिया गया था,ताकि एक्सीडेंट लगे मामला थाना बरगी अन्तर्गत टेढिया नाला के पास का है जहां पर 2 व्यक्तियों का शव सड़क में मीले थे,पुलिस की जांच में पाया गया की बिना सुरक्षा इंतजाम के टैंक की सफाई करवाने के दौरान टैंक में गिरने से हुई थी दोनो की मृत्यु , मर्ग जांच पर गैर इरादतन हत्या का प्रकरण दर्ज मुख्य आरोपी सहित 5 को गिरफ्तार,कर फरार 2 आरोपियों की तलाश सुरु कर दी है,

नाम पता गिरफ्तार आरोपी  –

  1. विशाल चैकसे पिता दमडी लाल चैकसे 52 वर्ष निवासी रमनपुर
  2. मोनू उर्फ आदित्य चैकसे पिता स्व. रामकिशोर चैकसे 18 वर्ष निवासी रमनपुर
  3. मंगल विश्वकर्मा पिता कतक लाल विश्वकर्मा 20 वर्ष निवासी आमानाला थाना धनौरा जिला सिवनी
  4. रमन उइके पिता पन्नीलाल उइके 20 वर्ष निवासी बम्हौणी थाना धनौरा जिला सिवनी
  5. उधम उर्फ राजकुमार विश्वकर्मा पिता रघुनाथ 35 वर्ष निवासी रमनपुर नाम फरार आरोपी  – 1-  निरंजन 2-  छोटू उर्फ राजेन्द्र जप्ती  – घटना में प्रयुक्त एक्टीवा ।

                       

ये है पूरा मामला,

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना बरगी अंतर्गत दिनाॅेक 21-9-2020 को शाम लगभग 5 बजे डायल 100 में सूचना मिली कि ग्राम रमनपुर रोड किनारे टेढिया नाला की ढाल में नाले के किनारे 2 व्यक्ति मृत पडे हैं, पास ही एक मोटर सायकिल भी ढाल में कुछ ही दूरी पर पड़ी है, सूचना पर पहुंची 100 डायल को बताये स्थान पर 2 व्यक्ति रोड किनारे  नाले के ढाल मे 7-8 फिट नीचे मृत अवस्था में पडे हुये मिले, पास ही मोटर साायकिल पडी हुई थी, सूचना पर थाना प्रभारी बरगी श्री शिवराज सिह हमराह स्टाफ के तत्काल मौके पर पहुंचे, मोटर सायकिल में एमपी 20 एमबी 5243 रजिस्ट्रेशन नम्बर डला हुआ था, जिसके आधार पर पतासाजी की गयी तो उक्त मोटर सायकिल ग्राम सिलुआ रमनपुर हुल्की बरगी निवासी बल्देव मरावी के नाम पर रजिस्टर्ड होना पायी गयी, मृतकों की शिनाख्तगी के प्रयास करने पर मृतकों की शिनाख्त बलदेव मरावी उम्र 25 वर्ष निवासी सिलुआ रमनपुर हुल्की बरगी एवं राजकुमार विश्वकर्मा उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम भमौडी जिला सिवनी के रूप में हुई।
घटना स्थल के निरीक्षण पर मिले दोनों शवों एवं मोटर सायकिल की स्थिति पर घटना संदिग्ध प्रतीत हुई।  घटित हुई घटना की जानकारी लगने पर पुलिस अधीक्षक श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के निदेशानुसार अति. पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री शिवेश सिंह बघेल एवं एफ.एस.एल. टीम मौके पर पहुंची, एवं घटना स्थल का बारीके से निरीक्षण करते हुये शवों को पीएम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर जांच में लिया गया।

टैंक में गिरने से हुई थी मौत,

वहीं घटना के बाद पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर अमित कुमार (भा.पु.से.) भी मौके पर पहुंचें एवं घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण करते हुये कार्यवाही के सम्बंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। प्राप्त पी.एम. रिपोर्ट में मृतक बल्देव मरावी एवं राजकुमार विश्वकर्मा की मृत्यु चोटें आने से होना लेख किया गया । दौरान मर्ग जांच के विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि दोनों मृतक विशाल ढाबा जो कि वर्तमान में बंद है, मे गडे हुये टैंक में गिरे थे, यह जानकारी लगते ही, विशाल ढाबा जो कि विशाल चैकसे का है, जो बंद पडे विशाल ढाबा में भी अपने भतीजे मोनू उर्फ आदित्य चैकसे के साथ रहता है, विशाल चैकसे एवं मोनू उर्फ आदित्य चैकसे को अभिरक्षा मे लेकर सघन पूछताछ की गयी तो बताये कि दिनाॅक 20-9-2020 को शाम लगभग 4 बजे ढाबा के पीछे गडे़ हुये दो टैंकों को साफ करने की बात ढाबा मे रहकर काम करने वाल बल्देव मरावी एवं राजकुमार विश्वकर्मा से की तो देानों तैयार हो गये, और बल्देव मरावी ने टैंक मे घुसने के लिये जैसे ही टैक का ढक्कन खोला अनियंत्रित होकर टैंक के अंदर गिर गया, बल्देव मरावी के चिल्लाने पर बल्देव को बचाने के लिये टैंक के अंदर राजकुमार घुसा था, आवाज लगाने पर दोनों के द्वारा कोई आवाज नहीं दी गयी तो ढाबे में काम करने वाले  मंगल विश्वकर्मा, रमन उईके, उधम विश्वकर्मा , निरंजन एवं छोटू उर्फ राजेन्द्र आ गये, सभी ने टैंक में गिरे बल्देव मरावी एवं राजकुमार विश्वकर्मा को बाहर निकालकर देखा जो हिल डुल नहीं रहे थे तब विशाल चैकसे एवं भतीजे मोनू चैकसे ने प्लानिंग की कि दोनों को बलदेव की मोटर सायकिल को टिढिया नाला के ढलान में डाल देते हैं, जिससे सभी को यह  प्रतीत हो कि एक्सीडेंट होने के कारण आयी चोटों से उनकी मृत्यु हुई है।  योजना के मुताबिक विशाल एवं मोनू चैकसे ने मंगल विश्वकर्मा, रमन उईके, निरंजन, उधम विश्वकर्मा, छोटू उर्फ राजेन्द्र  की मदद से एक्टीवा से बल्देव, एवं राजकुमार विश्वकर्मा  को टिढिया नाला में लगभग 30 फिट नीचे डाल दिये, तथा मोटर सायकिल टेढिया नाला की ढलान में नीचे छोड दिये।

5 आरोपी गिरफ्तार 2 फरार

पुलिस द्वारा की गई सम्पूर्ण जांच पर विशाल चैकसे, मोनू उर्फ आदित्य चैकसे द्वारा यह जानते हुये कि टैंक में उतारने से चोट लग सकती है, जान भी जा सकती है, किसी भी प्रकार की ओर सुरक्षा के उपाय नहीं किये गये, तथा बिना सुरक्षा उपाय टैंकरों को साफ करने हेतु उतारा जाना पाया जाने पर आरोपियों के विरूद्ध अपराध क्रमंाक 411/2020 धारा 304,120 बी, 201, भा.द.वि. 3(2)व्ही एससीएसटी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी विशाल चैकसे, मोनू उर्फ आदित्य चैकसे, मंगल विश्वकर्मा, रमन उईके, उधम उर्फ राजकुमार विश्वकर्मा की प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तारी की गयी है, फरार निरंजन एवं छोटू उर्फ राजेन्द्र की तलाश जारी है।

उल्लेखनीय भूमिका –

घटना का खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार करने मे नगर पुलिस अधीक्षक बरगी रवि सिंह चैहान के मार्ग निर्देशन में थाना प्रभारी बरगी शिवराज सिह, उप निरीक्षक कांति ब्रम्हे, कुलदीप पटेल, प्रधान आरक्षक सुरेश तिवारी, सियाराम, आरक्षक अरविंद, इद्रकुमार, कौरव, रवि शर्मा, आदित्य रैकवार, की सराहनीय भूमिका रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close