Uncategorized

डॉक्टर जेठी पर लगा मरीज की मौत का आरोप

जबलपुर :युवक की इलाज के दौरान हुई मौत पर परिजनों ने डॉक्टर की लापरहवाही बताते हुए डॉक्टर पर युवक की मौत के आरोप लगाए है ,

मामला सिविल लाईन थाना क्षेत्र का है जहाँ पर जेठी अस्पताल में दिनॉक 25-2-2020 की रात्रि मे विवाद होने की सूचना पर पहुचीं पुलिस को मदन सोनकर उम्र 42 वर्ष निवासी थाना हनुमानताल के पीछे ने लिखित शिकायत की कि उसका पुत्र गौरव सोनकर उम्र 17 वर्ष का विगत 3-4 माह से डा.ॅ जेठी से अपना इलाज करवा रहा था, समय समय पर डॉ. जेठी द्वारा लिखी गयी सभी जांचे एवं डॉ. द्वारा लिखी गयी दवाईया समय पर नियमित रूप से करायी गयी। दिनॉक 24-2-2020 को शाम 7 बजे डॉ. जेठी द्वारा करायी गयी सोनेग्राफी  एवं ईको चैक कराने डॉ. जेठी के अस्पताल बेटे गौरव को लाया था जहॉ डॉ. द्वारा बताया गया कि गौरव के फेफडे मे पानी भरा हुआ है, पानी निकालना होगा, तब डॉ. जेठी ने किसी अन्य को फेफडे का पानी निकालने हेतु फोन लगाकर बुलाया था, जिनकी अलग से 6 हजार रूपये फीस ले ली थी, जिस डॉक्टर को बुलाया था उसका नाम नहीं मालूम है,  इसके बाद उसके बेटे को पानी निकालने के लिये ऑपरेशन थियेटर के अंदर ले गये, फेफडे का पानी निकालते समय परिवार के किसी सदस्य को साथ नहीं रखा गया। डॉ. ने लापरवाही पूर्वक क्या उपचार किया उसे नहीं मालूम लगभग आधा घंटे बाद उसके पुत्र को लेकर आये और पैदल ले जाकर जनरल वार्ड मे भर्ती कर दिया, बच्चे का क्या उपचार करते रहे नहीं बताया, लगभग आधे घंटे बाद जब डॉक्टर ने बेटे के सीने को दबाना चालू किया तब लगा कुछ गडबड है तब भी डाक्टर ने कुछ नही बताया, डाक्टर जेठी की लापरवाही से उसके बेटे गौरव सोनकर की मृत्यु हो गयी, इसके बाद भी डाक्टर कुछ बताने को तैयार नहीं थे।सूचना पर पहुँची पुलिस ने पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर मामले की जांच सुरु कर दी है ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close