खास खबरमध्य प्रदेश

नर्मदा गौ-कुंभ: युवाओं की बड़ी संख्या में उपस्थिति,सरकारी स्टालों में ले रहे कैरियर की जानकारी, जनकल्याण के लिये महायज्ञों का आरंभ,सांस्कृतिक आयोजनों की धूम


जबलपुर :नर्मदा गौ-कुंभ जैसे-जैसे अपने आयाम तय कर रहा है वैसे-वैसे आयोजन की विशिष्टता और उपयोगिता स्वयं सिद्ध हो रही है। इस आयोजन में सभी आयु वर्ग के भक्तजन पुण्य लाभ ग्रहण कर रहे हैं। सुबह से देर रात तक श्रद्धालु कुंभ क्षेत्र में उपस्थित रहते हैं। विशेषकर युवाओं के लिये नर्मदा कुंभ कई फायदों को एक साथ प्रदान करने वाला साबित हो रहा है। जहां एक ओर युवाओं को धर्म-आध्यात्म और सनातन संस्कृति से रूबरू होने का अवसर मिल रहा है, वहीं युवा वर्ग कुंभ में स्थापित किये गये शासकीय विभागों के स्टॉल में जाकर नयी योजनाओं और उनसे होने वाले लाभों के बारे में भी जान रहे हैं। आयोजन के तीसरे दिन इन स्टॉलों में युवाओं की लंबी कतारें दिखाई दीं। कुंभ में धार्मिक आयोजनों का सिलसिला अनवरत जारी है। महायज्ञों के साथ संत समागम में संतों के बहुमूल्य प्रवचनों ने श्रद्धालुओं को जागृत किया। मप्र सरकार द्वारा आयोजित नर्मदा गौ-कुंभ की अध्यक्षता वित्त मंत्री तरुण भनोत द्वारा की जा रही है। श्री भनोत के निर्देशन में जिला प्रशासन, नगर निगम एवं स्मार्ट सिटी ने संयुक्त रूप से कुंभ परिसर को सर्वसुविधाओं के लिहाज से तैयार किया है, जिसका सकारात्मक असर भी दिखाई दे रहा है। वहीं, कुंभ के मुख्य यजमान गौरव भनोत सुबह से देर रात तक कुंभ में मौजूद रहे।

नई पीढ़ी को मिल रही नई राहें


नौजवान पीढ़ी के लिये इस वक्त सबसे महत्वपूर्ण है कैरियर। इस मेले में शासकीय विभागों की प्रदर्शनी और स्टालों में जाकर युवा अपनी जिज्ञासायें व्यक्त कर रहे हैं और उनका समाधान पा रहे हैं। जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक देवव्रत मिश्रा ने बताया कि कुंभ परिसर में शिक्षा विभाग, पशु चिकित्सा, आयुष, महिला बाल विकास, कृषि, पर्यटन एवं ऊर्जा विकास निगम के स्टॉल और प्रदर्शनी लगायी गयी है। बीते तीन दिनों में ही युवाओं की बड़ी संख्या इन सभी स्टॉल्स पर पहुंची और योजनाओं की जानकारी ली। युवाओं ने स्टॉल पर अधिकारियों-कर्मचारियों से कई सवाल भी पूछे और उनका उन्हें जवाब भी मिला। वहीं, विभागों ने भी अपनी योजनाओं को आकर्षक ढंग से डिस्प्ले किया है ताकि युवाओं तक बेहतर तरीके से बात पहुंचायी जा सके।

पैदल चलने की जरूरत नहीं


संभवत: ये पहली बार है जब इतने बड़े आयोजन में लोगों को पैदल नहीं चलना पड़ रहा है। नगर निगम प्रशासन ने शहर के विभिन्न रूटों पर चलने वाली 20 बसें नि:शुल्क यात्रियों को रेत नाके तक लेकर आ रही हैं। यहां से करीब 60 ई-रिक्शों का प्रबंध किया गया है,जो उन्हें कुंभ स्थल तक छोड़कर आ रहे हैं। इसके अलावा पुलिस प्रशासन ने दो पहिया वाहनों को कुंभ स्थल तक जाने की रियायत भी दे रखी है।
-लोककल्याण के यज्ञों का शुभारंभ
लोककल्याण के लिये कुंभ में संत समाज द्वारा महायज्ञों का आज शुभारंभ किया गया। श्री नर्मदा महायज्ञ, महारुद्र यज्ञ एवं गोपुष्टि महायज्ञ प्रतिदिन सुबह 8 बजे से 12 बजे तक संपन्न होंगे। पूर्वान्ह् 11.30 बजे से 3 बजे तक श्रीमद् भागवत कथा प्रवक्ता आचार्य इंद्रेश उपाध्याय श्रीमद् भागवत कथा पर प्रवचन दिया। भक्तों ने बड़ी श्रद्धा के साथ कथा का श्रवण किया।


संतों ने सरकार को दिया साधुवाद


नर्मदा गौ-कुंभ में देश भर से आये अनेक साधु-संतों ने राज्य सरकार द्वारा इस विशाल धार्मिक आयोजन को सुव्यवस्थित तरीके से आयोजित करने पर साधुवाद दिया। संतों ने कहा कि बड़े पैमाने पर किये जाने वाले कार्यक्रमों में इंतजामों का स्तर अधिकांशत: गड़बड़ा जाता है,लेकिन नर्मदा गौ-कुंभ में व्यवस्थायें सुचारू रूप से जारी हैं,ये प्रशंसा का विषय है।
-कुंभ में सुविधायें
श्रद्धालुओं को बेहतर भोजन उपलब्ध कराने के लिये टीमें तैनात की गयी हैं। मुख्य रूप से दो भोजशालायें बनाई गयीं हैं। पहले पंडाल में साधु-संतों के साथ चलने वाले लोग भोजन कर रहे हैं तो दूसरे में आम जनता के लिये भोजन सहज-सुलभ कराया गया है। सुबह नाश्ते के साथ दोपहर और रात्रि भोजन की व्यवस्था का सभी जन लाभ उठा रहे हैं। एक अन्य भोजशाला भी है, जिसमें साधु-संतों के लिये भोजन की व्यवस्था की गयी है।
कुंभ में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिये 6 अस्थायी थाने बनाये गये हैं। जहां से 24 घंटे पुलिस सहायता प्राप्त होगी। पार्किंग के लिये 15 स्थान चिन्हित किये गये हैं,जिनकी जिम्मेदारी दो सौ यातायात पुलिस कर्मी के कंधों पर होगी। पेयजल की आपूर्ति के लिये 5 हजार लीटर क्षमता वाली 28 टंकियां रखी गयी हैं। प्रसाधनों का इंतजाम आधुनिक तरीके से हुआ है। जिनमें स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा गया है। कुंभ क्षेत्र में बैठने के लिये कुर्सियों का इंतजाम भी किया गया है। 24 घंटे 100 कैमरे कुंभ क्षेत्र पर नजर रखेंगे। इन सभी कैमरों के लिये दो कंट्रोल रूम स्थापित किये गये हैं। रेत नाके से भटौली तक सीसीटीवी लगाये गये हैं।
-कलेक्टर ने किया निरीक्षण
कलेक्टर भरत यादव आज नर्मदा कुंभ परिसर पहुंचे और व्यवस्थाओं का मुआयना किया। श्री यादव ने रेत नाके से लेकर भटौली तक के सारे इंतजामों के प्रभारी अधिकारियों से बात की। श्री यादव ने कहा कि श्रद्धालुओं की परेशानियां होने की शिकायतें नहीं आनी चाहिये, अन्यथा सख्त कार्रवाई होगी।
-महाआरती के बाद लेजर शो
कुंभ के सांस्कृतिक आयोजनों में आज लेजर शो मेन एक्ट आकर्षण का मुख्य केन्द्र रहा। लेजर शो में मप्र के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दी जा रही हैं।

  • नर्मदा कुंभ में ‘कामा के कन्हैया’ का प्रवचन आज
    अपने भक्तों के बीच ‘कामा के कन्हैया, लाठी वाले भैया’ के नाम से सुप्रसिद्ध श्री स्वामी हरि चैतन्य पुरी महाराजजी गुरुवार से अपनी दिव्य वाणी से संस्कारधानी के श्रद्धालुओं को कृतार्थ करेंगे। स्वामीजी महाराज नर्मदा गौ-कुंभ गीताधाम (ग्वारीघाट)में गुरुवार को सायं 5 बजे से दिव्य प्रवचन प्रारंभ करेंगे। स्वामीजी की प्रवचन श्रंखला शुक्रवार को भी जारी रहेगी। श्री हरिकृपा मानव सेवा संस्थान द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार, स्वामीजी का गुरुवार को दोपहर में सड़क मार्ग से नगरागमन होगा। स्वामीजी कामा(भरतपुर राजस्थान)से सीधे जबलपुर पहुंचेंगे। यहां वे गुप्तेश्वर (हाथीताल) में लकी भाटिया के निवास के पास भक्तजनों को आशीर्वाद देंगे। तत्पश्चात शाम को नर्मदा कुंभ स्थल पहुंचेंगे। संस्थान द्वारा स्वामीजी का भव्य स्वागत किया जायेगा। बताया गया है कि महाराजजी मां नर्मदा की आध्यात्मिक विशिष्टताओं पर प्रकाश डालते हुये वर्तमान परिप्रेक्ष्यों पर विस्तार से बात करेंगे। उल्लेखनीय है कि स्वामीजी को अब तक देश-विदेश के अनेक प्रतिष्ठित सम्मान प्रदान किया जा चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close