जरा हटकेराष्ट्रीय

पंचायत ने पानी से मांग धुलवाकर करवा दिया पति-पत्नी का तलाक

हमारे देश मे आज भी कुछ ऐसे गाँव है जहां पर पंचायत के फैसलों से गांव के बड़े -बड़े मसले चाहे वो सही हो गलत उनका निपटारा कर दिया जाता है, ऐसा ही एक मामला सोनभद्र जिले के रायपुर थाना क्षेत्र के गोटीबांध गांव में हुआ जहाँ पर गुरुवार को पंचायत लगी और पँचायत के एक फैसले से पति-पत्नी के बीच अजीबोगरीब तरीके से तलाक हो गया।

पति से धुलवाया गया पत्नी की मांग का सिंदूर

वहीँ इस दौरान महिला की मांग का सिंदूर में पति से  पानी डालकर धुलवाया गया और तलाकनामा भी लिखा गया। लेकिन, पुलिस को कानोंकान खबर नहीं लगी।

ये है पूरा मामला

अमर उजाला की खबर के मुताबिक गोटीबांध गांव निवासी मीना की लगभग ढाई दशक पहले पन्नू गंज थानाक्षेत्र के धर्मदासपुर निवासी संतोष गिरि से शादी हुई थी। इनको दो बेटियां बेटी नेहा (17), खुशबू (13) और बेटा अमित (5) है। इधर, कुछ दिनों से पति-पत्नी के संबंधों में कड़वाहट आ गई थी। इस कारण मीना मायके में ही रह रही थी। इसी दौरान मीना ने पति से अलग होने का निश्चय कर लिया।मीना ने गुरुवार को गोटीबांध स्थित शिव मंदिर परिसर में पंचायत बुलाई। वहीं उसने पति को भी बच्चों के साथ बुलाया। यहां प्रधान और अन्य लोगों की मौजूदगी में पति-पत्नी ने अलग रहने का फैसला कर लिया। इसके बाद विवाहिता की मांग से सिंदूर धुल दिया गया।नेहा और अमित पिता के साथ और बेटी खुशबू मां के साथ रहने को राजी हुई। इसके बाद स्टांप पर तलाकनामा लिखकर दंपती और उनकी तीनों संतानों के दस्तखत कराए गए। मीना ने अपनी मां के साथ मायके रहने का फैसला किया है, क्योंकि उसके पिता की मृत्यु हो चुकी है।सरईगढ़ चौकी प्रभारी प्रमोद यादव ने बताया कि यह मामला उनकी संज्ञान में आ गया है। जांच की जा रही

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close