खास खबरमध्य प्रदेश

पिपरिया शाला पहुंचकर कलेक्टर ने किया बच्चों से संवाद अनुपस्थित शिक्षकों को नोटिस जारी करने के निर्देश

जबलपुर :कलेक्टर श्री भरत यादव ने आज गुरुवार को अचानक शहर के आखिरी छोर पर बसे ग्राम पिपरिया ( खमरिया) स्थित शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक शाला पहुँचकर यहाँ कक्षा छठवीं और ग्यारहवीं में अध्ययनरत बच्चों की क्लास ली और बेहतर भविष्य के लिए उन्हें कड़ा परिश्रम करने के लिए प्रेरित किया । कलेक्टर आज शासकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और तहसील ऑफिस के निरीक्षण के लिए कुंडम जा रहे थे । श्री यादव ने रास्ते में रूककर पिपरिया खमरिया शाला के निरीक्षण के लिए जा पहुंचे। निरीक्षण की शुरूआत में ही उन्होंने हाजिरी रजिस्टर की जांच कर बिना अवकाश स्वीकृत हुए शाला से अनुपस्थित चार सहायक शिक्षकों को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए ।
कलेक्टर ने शाला के निरीक्षण के दौरान कक्षा ग्यारहवीं के बच्चों से भविष्य को लेकर उनकी प्लानिंग पूछी । उन्होंने बच्चों से जानना चाहा कि वे किस क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं । श्री यादव ने बच्चों से कहा कि लक्ष्य को पाने के लिए उन्हें कड़ी मेहनत करनी होगी । उन्होंने पढ़ाई के साथ – साथ खेलकूद की गतिविधियों में भी भाग लेने तथा टी व्ही – रेडियो पर समाचार देखने व सुनने और समाचार पत्रों को पढ़ने की आदत डालने की सलाह दी । श्री यादव ने सहज और सरल अंदाज में बच्चों से संवाद करते हुए कहा कि उन्हें अपनी प्रतिभा पर भरोसा करना सीखना होगा । । तभी वे अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे । श्री यादव ने बच्चों से कहा कि उन्हें मुखर बनना होगा तथा झिझक छोड़कर खुद को बेहतर तरीके से प्रस्तुत करने की कला भी सीखनी होगी । श्री यादव ने इन गुणों को विकसित करने के लिये स्कूलों में बच्चों की वाद-विवाद और भाषण प्रतियोगियताऐं नियमित रूप से आयोजित करने के निर्देश दिए । उन्होंने कक्षा ग्यारहवीं और बारहवीं में अध्ययनरत बच्चों के लिए कैरियर काउंसलिंग के कार्यक्रम आयोजित किये जाने की बात भी कही ।कलेक्टर ने बच्चों को बड़ी सोच रखने और बड़ा लक्ष्य निर्धारित कर उसे पाने के लिए प्रोत्साहित भी किया । उन्होंने कहा कि शासकीय स्कूलों में पढ़ रहे बच्चे ही आज हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं । श्री यादव ने खुद अपना उदाहरण देते हुए बताया कि उन्होंने भी गाँव के सरकारी स्कूल में ही प्रायमरी शिक्षा प्राप्त की है और कक्षा छठवीं से नवोदय स्कूल में अध्ययन किया है । उन्होंने कहा कि आज वे जिस मुकाम पर है वो अपने शाला और शिक्षकों से प्राप्त संस्कारों के बदौलत ही हैं । कलेक्टर ने पिपरिया ( खमरिया ) शाला के निरीक्षण के दौरान कक्षा छठवीं के बच्चों से भी बातें की । उन्होंने इन बच्चों को भी मुखर होकर सवालों के जबाब देने की सीख दी । श्री यादव ने छात्रों से कहा कि यदि उन्हें कोई बात समझ में नहीं आ रही है तो उन्हें शिक्षकों से बार – बार पूछना चाहिए । उन्होंने बच्चों से मध्यान्ह भोजन के बारे में भी पूछताछ की कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान शाला में पदस्थ शिक्षकों के बारे में भी जानकारी ली । उन्होंने हाजिरी रजिस्टर से शिक्षकों की उपस्थिति की खुद जांच की । श्री यादव ने बिना किसी पर्याप्त कारण और अवकाश स्वीकृत हुए बिना लगातार अनुपस्थित रहने पर चार सहायक शिक्षक नीलम मलिक, गायत्री विश्वकर्मा, संजय चौबे और मीना पानगांवकर को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए । उन्होंने शाला के प्रभारी प्राचार्य को निर्देश दिए कि जब तक इन शिक्षकों से नोटिस के संतोषजनक जबाब नहीं आ जाते इनके वेतन का भुगतान रोक दिया जाए ।कलेक्टर ने पिपरिया खमरिया शाला में निर्धारित मेनू के मुताबिक बच्चों को मध्यान्ह भोजन नहीं दिए जाने पर अप्रसन्नता भी व्यक्त की । उन्होंने मध्यान्ह भोजन आपूर्तिकर्ता एजेंसी को इस मामले में नोटिस देने के निर्देश दिये । श्री यादव ने शाला परिसर में पौधारोपण कार्ययोजना तैयार करने प्रभारी प्राचार्य को कहा । उन्होंने साफ – सुथरे गणवेश में शाला आने वाले बच्चों को प्रोत्साहित करने की जरूरत भी बताई । कलेक्टर ने कहा कि शाला में गणित , विज्ञान एवं वाणिज्य बिषय के शिक्षको की कमी जल्दी दूर करने के प्रयास किये जायेंगे । इस मौके पर उन्होंने शौचालयों का भी निरीक्षण किया तथा साफ – सफाई पर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश दिए ।
आंगनबाड़ी केंद्र का भी किया निरीक्षण
कलेक्टर श्री भरत यादव ने शासकीय शाला पिपरिया के आकस्मिक निरीक्षण के बाद इसी शाला परिसर में स्थित आंगनवाड़ी केंद्र का भी निरीक्षण किया । श्री यादव ने मौके पर मौजूद आंगनवाड़ी कार्यकर्ता से आंगनवाड़ी केंद्र में दर्ज बच्चों की संख्या और उपस्थिति की जानकारी ली । उन्होंने आंगनवाड़ी केंद्र में रखे टेक होम राशन की भी जांच की । श्री यादव ने गर्भवती और धात्री महिलाओं को टेक होम राशन से पौष्टिक और स्वादिष्ट व्यंजन बनाना सिखाने निर्देश आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता को दिए ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close