अपराधबड़ी खबरमध्य प्रदेश

पुलिस प्रशासन की टीम को देखते ही रेत माफियों के मजदूरों ने नदी में लगा दी छलांग

जबलपुर :नदियों को खोखला कर रेत का अवेध उत्खनन कर रहे रेत माफियो ने जैसे ही पुलिस और प्रशासन की टीम को एकसाथ आते देखा तो नदी में नावों से रेत निकाल रहे माफियों के मजदूरों ने नदी में छलांग लगाकर तैरते हुए भाग गए,

झांसी घाट में हो रहा था अवैध उत्खनन

वहीँ हिरन नदी के झांसी घाट स्थित सीताराम घाट से रेत का अवैध उत्खनन व परिवहन जोरों पर था,नाव के माध्यम से अवैध रूप से रेत निकाली जा रही थी ,पुलिस एवं प्रशासन की टीम ने संयुक्त रूप से दबिश,देते हुए 4 नाव एवं घाट किनारे बनी झोपड़ी को किया गया नष्ट,करते हुए लगभग 45 डम्फर 450 घन मीटर रेत जप्त करते हुए कार्यवाही की है, गौरतलब है की पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा दिनाॅक 4-10-2020 को समस्त देहात थाना प्रभारियों एवं देहात मे पदस्थ राजपत्रित अधिकारियेां की बैठक ली गयी थी, बैठक में सभी को निर्देशित किया गया था कि नदी के एैसे किनारे एवं घाट जहाॅ पर रेत का अवैध उत्खनन किया जाता है, प्रतिदिन भ्रमण किया जाये, एवं रेत के अवैध उत्खनन के कोराबार मे लिप्त सम्बंधित के विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाये।

45 डम्फर रेत जप्त ,

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक आज दिनाॅक 6-10-2020 को झांसी घाट स्थित सीताराम घाट में नाव के माध्यम से मजदूरों के द्वारा अवैध रूप से रेत निकाले जाने की सूचना पर एस.डी.ओपी पाटन देवी सिंह ठाकुर, तहसीलदार शहपुरा राजेश सिंह एवं थाना प्रभारी शहपुरा उप निरीक्षक सी.एम. शुक्ला  हमराह बल के साथ  झांसी घाट स्थित सीताराम घाट पहुंचे, पुलिस टीम को देखकर  नाव से रेत निकाल रहे मजदूर  नदी  के उस पार तैर कर भाग गये, सूचना पर खनिज निरीक्षक अभिषेक पटले मौके पर पहुंचे, 4 नाव जिनसे रेत निकाली जा रही थी, एवं घाट के किनारे बनी झोपड़ी जिसमे काम करने वाले मजदूर अपना खाना बनाते है को नष्ट किया गया, घाट किनारे लगभग 45 डम्फर, 450 घन मीटर  रेत डम्प की हुई मिली, जिसे जप्त करते हुये उक्त अवैध रेत का उत्खनन किसके द्वारा कराया जा रहा था के सम्बंध मे पतासाजी की जा रही है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close