खास खबरमध्य प्रदेश

पेंशन पाने किसी भी हितग्राही को भटकना न पड़े.ग्रामीण क्षेत्र के भ्रमण के दौरान कलेक्टर ने अधिकारियों को दी हिदायत


जबलपुर :सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ पाने किसी भी हितग्राही को बिना वजह भटकना न पड़े । ये हिदायत कलेक्टर भरत यादव ने आज चरगवां क्षेत्र के अपने भ्रमण के दौरान ग्राम पंचायत गंगई के नवनिर्मित भवन के निरीक्षण के दौरान मौजूद अधिकारियों को दी । निरीक्षण के दौरान पेंशन स्वीकृत करने की आस लिये उनके पास आये दो हितग्राहियों की व्यथा सुनने के बाद श्री यादव ने कहा कि पंचायत सचिवों और रोजगार सहायकों को अपने क्षेत्र के पात्र हितग्राहियों को पेंशन दिलाने खुद होकर पहल करनी चाहिये। यह उनकी जिम्मेदारी भी है और कर्त्तव्य भी। यदि वे इसे पूरा करने में असमर्थ रहे और पात्र हितग्राही भटकते रहे तो उन्हें सचिव और सहायक के पद पर बने रहने का कोई हक नहीं है। न केवल उन्हें पद पृथक कर दिया जाना चाहिये बल्कि क्षेत्र के जिम्मेदार अधिकारियों पर भी कार्यवाही करनी होगी ।कलेक्टर श्री यादव ने चरगवां क्षेत्र के भ्रमण के दौरान गंगई में नव निर्मित ग्राम पंचायत भवन के निरीक्षण के साथ -साथ ग्राम भिड़की में शासकीय उचित मूल्य दुकान का निरीक्षण भी किया । उन्होंने क्षेत्र की उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से सभी पात्र उपभक्ताओ के आधार नम्बर पीओएस मशीन पर दर्ज करने का काम शीघ्र पूरा करने और अपात्र उपभोक्ताओं के नाम काटने की कार्यवाही प्रारम्भ करने के निर्देश मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिये ।
निर्माणाधीन उप तहसील कार्यालय का किया निरीक्षण
कलेक्टर श्री यादव ने भ्रमण के दौरान चरगवां में निर्माणाधीन उप-तहसील कार्यालय भवन का निरीक्षण भी किया । उन्होंने कार्यालय भवन के साथ-साथ परिसर के चारों तरफ बाउंड्रीबाल बनाने के निर्देश दिये तथा इस दिशा में आने वाली रुकावटों को शीघ्र दूर करने की बाद कही ।
चरगवाँ प्राथमिक स्वास्थ केंद्र का भी किया निरीक्षण
उप-तहसील कार्यालय के निर्माणाधीन भवन के बाद कलेक्टर ने चरगवाँ स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया और यहाँ कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों को भर्ती कर उपचार की व्यवस्थायें देखी। श्री यादव ने अस्पताल में बनाये गये फीवर क्लीनिक का जायजा भी लिया और ओपीडी बढ़ाने तथा कोरोना सन्दिग्ध पाये जाने पर सम्बन्धित व्यक्ति को होम क्वारन्टीन में रखने अथवा संस्थागत क्वारन्टीन सेंटर भेजने के निर्देश दिये । उन्होंने छूट गये बच्चों के टीकाकर्ण के कार्य में गति लाने तथा एल्गिन अथवा मेडिकल रेफर करने की अपेक्षा प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में ही प्रसव की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया। श्री यादव ने चरगवाँ प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार के लिये प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर ने नीमखेड़ा कुसमी में मुख्यमंत्री गौ सेवा परियोजना के तहत संचालित की जा रही गौ-शाला का निरीक्षण भी किया । इस दौरान उन्होंने यहाँ स्थाई बिजली कनेक्शन लेने तथा गौ-शाला परिसर के भीतर पेवर ब्लॉक लगाने के निर्देश दिये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close