अपराधमध्य प्रदेश

बदमाश की हत्या करने वाले मांडवा के 2 अपचारी बालक सहित 4 गिरफ्तार

जबलपुर :माण्डवा बस्ती बृजमोहन नगर के शातिर बदमाश निखिल चतरे की हत्या करने वाले 2 अपचारी बालक सहित 4 को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है,

ये है पूरा मामला,
 

मामला गारेखपुर थाना क्षेत्र का है पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बृजमोहन नगर माण्डवा बस्ती निवासी निखिल चतरे उम्र 22 वर्ष अपराधी प्रवृत्ति का युवक था जिसके विरूद्ध   लूट, अवैध वसूली, आम्र्स एक्ट एवं मारपीट के 12 प्रकरण पंजीबद्ध होकर न्यायालय मे विचाराधीन है, निखिल चतरे की आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने हेतु जिला बदर का प्रकरण तैयार कर प्रस्तुत किया गया था, जिला दण्डाधिकारी जबलपुर कार्यालय से  जिला बदर का नोटिस तामीली हेतु थाना गोरखपुर मे प्राप्त हुआ था, जिसकी नोटिस तामीली हेतु तलाश की जा रही थी, जो घर पर नहीं मिल रहा था। निखिल चतरे का क्षेत्र के लोगों मे काफी भय था जिस कारण कोई बता नहीं रहा था, दिनाॅक 6-8-2020 की रात लगभग 11 बजे  माण्डवा बस्ती में निखिल चतरे घायल अवस्था मे नाली मे पडा मिला था जिसे सूचना  पर पहुंची पुलिस द्वारा मेडिकल कालेज मंे भर्ती कराया गया जिसकी दोैरान उपचार के   सुबह लगभग 5-30 बजे मृत्यु हो गयी, पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर जांच मे लिया गया। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के दिशा निर्देशन में अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण डाॅ संजीव उइके के मार्ग दर्शन में घटित हुई घटना की जांच की गयी। दौरान जांच  के घटना स्थल का निरीक्षण करते हुये साक्षियांे के कथन लिये गये जिसमे पाया गया कि दिनाॅक 6-8-2020 को रात 8 बजे स्वयं के घर के पिछवाडे में जहाॅ आसपास अन्य लोग भी रहते है वहाॅ निखिल चतरे ने कुछ सुतली बम फोड़े थे। रात 10-30 बजे जब निखिल अपने घर से अकेला बस्ती की ओर जा रहा था तभी 4-5 लडके जो हाथ मे पाईप एव लाठी रखे थे, ने निखिल को खदेड़ा जो नये निमार्णाधीन मंदिर के बाजू वाली रोड से भागा, जैसे ही संजय अग्रवाल के घर के दरवाजे के पास पहुंचा तभी सभी लडके निखिल को खींचने लगे, निखिल और तेजी से भागने लगा तथा सामने की नाली में गिर गया, जहाॅ से निखिल को  निकालकर अंशुल नामदेव, अजय चैधरी एवं अन्य 1-2 लोग लाठी एवं पानी के पाईप से मारने लगे जिससे निखिल को शरीर मे चोटे आ गयी थी। 

बदमाश की लाठी और पाइप से की गई थी मारपीट

पुलिस को प्राप्त पीएम रिपोर्ट मे डाक्टर द्वारा मृतक की मृत्यु सिर व शरीर मे आयी चोटो  के कारण होना लेख किया गया है।सम्पूर्ण जांच में मृतक निखिल द्वारा लोगो के घर के सामने रस्सी बम फोडकर गालीगलौज करना तथा इसी बात को लेकर जब निखिल अपने घर से बस्ती की ओर जा रहा था तब अंशुल नामदेव,  अजय चैधरी, दोनों निवासी माण्डवा एवं अन्य 1-2 के द्वारा निखिल को खदेडते हुये लाठी एवं पाईप से मारपीट करना जिससे आयी चोटो के कारण दौरान उपचार के निखिल चतरे की मृत्यु हो जाना पाया जाने पर  दिनाॅक 8-8-2020 को धारा 302,147,148, भादवि, 3(2)व्ही, 3(2)व्हीए, 3(1) द एससीएसटी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया।पतासाजी करते हुये आरोपियों के घरों पर दबिश दी गयी जो घर से फरार मिले, दिनाॅक 10-8-2020 को विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर सुविधा अस्पताल से अंशुल नामदेव  उम्र 22 वर्ष  , अजय कुमार चैधरी उम्र 26 वर्ष तथा अन्य दो 17 वर्षिय अपचारी बालकों को घेराबंदी कर पकडा गया है। पूछताछ करते हुये घटना में प्रयुक्त 1 बेस बाॅल का डण्डा, 1 लाठी,  एवं एक लोहे की राॅड जप्त की गयी है।

उल्लेखनीय भूमिका

पतासाजी कर आरोपियों को गिरफ्तार करने मे थाना प्रभारी गोरखपुर सुश्री सारिका पाण्डे, पी.एस.आई. राहुल परमार, आरक्षक प्रभात मार्को, संतोष जाट, संदीप पाल, मोहित की सराहनीय भूमिका रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close