जरा हटकेमध्य प्रदेश

बहोरीबंद की इस पंचायत में भृस्टाचार चरम पर कुंभकर्णी नींद सो रहा प्रशासन

बहोरीबंद(अवधेश यादव): कटनी बहोरीबंद जनपद अंतर्गत आने वाली किवलरहा ग्राम पंचायत के ग्राम बसेड़ी में ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीँ मिल पा रहा है, ग्रामीणों का आरोप है की  सरपंच पति का रुतबा ऐसा है की सरकारी योजनाओं को कागजों में ही दर्शा दिया जाता है ,
ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा सरकारी योजनाओं का लाभ,
 जनपद पंचायत बहोरीबंद के ग्राम पंचायत किवलरहा मैं सरपंच कलसा बाई लोधी जो कि एक नाम मात्र की सरपंच साबित हो रही है जिनको उनके अधिकार से कोसों दूर वंचित रखा जाता है रखा क्यों ना जाए क्योंकि पति गणेश लोधी दबंग है जिन्हें शासन के नियमों व अधिकारों से कोई मतलब नहीं जहां ग्रामीण परेशान होकर अनेकों बार साहबों के दरवाजे खड़खड़ आने में कसर नहीं छोड़ी पंचायत की आश्रित ग्राम कछार गांव बसेड़ी हाथी भार पंचायत के सरपंच पति द्वारा शासन की योजनाओं से पूर्णता वंचित है क्योंकि वहां एक तरफ सचिव ग्रामीणों को हरिजन एक्ट की धमकी देकर धमकाता रहता है तो एक तरफ सरपंच पति की दबंगई आज तक किसी प्रकार की कोई साफ-सफाई पंचायत के गांव में नहीं कराई गई वही सभी निर्वाचित पंच अपने अधिकारों से वंचित रहते हैं ना उन्हें कभी बैठकों में बुलाया जाता और ना पंचायत के कार्यों में उनकी कोई सहमति ली जाती सीसी रोड में स्टीमेट के विपरीत केवल 2 इंच सीसी रोड में निर्माण किया गया तो वही कागजों में फर्जी हाजिरी भर कर व फर्जी कार्य दर्शा कर शासन की राशि का गोलमाल किया जाता है अनेकों बार शिकायत करने के बावजूद जनपद में बैठे आला अधिकारी धृतराष्ट्र बनकर तमाशा देखने में माहिर बन चुके हैं अब देखते हैं ग्रामीणों को न्याय मिलेगा या इसी तरह प्रताड़ित रहेंगे,हाथी भार गांव को जाने के लिए नहीं है सड़क अनेकों बार लाखों की राशि इस गांव के रोड के लिए निकाल ली गई लेकिन जंगल से भीड़ बना पगडंडी रास्ता ही ग्रामीणों के लिए

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close