बड़ी खबरमध्य प्रदेश

मंझोली जनपद की रानीताल पंचायत का सचिव सस्पेंड,ये है बजह

जबलपुर :एक ऐसी महामारी जिससे आज पूरा देश संघर्ष कर रहा है ,ऐसे में कुछ ऐसे भी लापरवाह कर्मचारी है ,जो अपने निजी स्वार्थ के चलते सरकार के जनहितैषी काम को करने से भी कतराते है ,उन्ही में से एक था ये सचिव जिसकी लापरवाही उसपर भारी पड़ी और जिला पंचायत सी ई ओ प्रियंक मिश्रा ने मंझोली जनपद की ग्राम पंचायत रानीताल के सचिव अनिल दाहिया को सस्पेंड कर दिया है

सस्पेंड सचिव अनिल दाहिया

कोरोना रोकथाम में लापरवाही

वहीँ जिला पंचायत जबलपुर द्वारा जारी आदेश के अनुसार ,कोरोना कोविड -19 के संक्रमण की रोकथाम हेतु रानीताल पंचायत के सचिव अनिल दाहिया की इसीडेंट मैनेजमेंट दल में ड्यूटी लगाई गई थी ,लेकिन दिनांक 4 /04/2020 को अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व ) अनुभाग सिहोरा के साथ ग्राम पंचायत रानीताल का भृमण के दौरान सचिव अनिल दाहिया ड्यूटी में नहीँ पाया गया ,जिसके चलते पहले उसे कारण बताओ नोटिस दिया गया लेकिन सचिव द्वारा नोटिश का भी समय रहते कोई जबाब नहीं दिया गया

सीएम हेल्पलाइन की भी दी थी गलत जानकारियां

वहीं इतना ही नहीँ ग्राम पंचायत रानीताल में दर्ज सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों में भी इनके द्वारा गलत जानकारी देने पर कारण बताओ नोटिश जारी किये जाने के बाद भी सचिव अनिल दाहिया द्वारा आज दिनांक तक कोई जबाब प्रस्तुत नहीँ किया गया इस महत्त्वपूर्ण कार्य के प्रति लापरवाही व उदासीनता बरतने पर सचिव अनिल दाहिया के खिलाप अनुशासनात्मक कार्यवाही की गई है

ऐसे समय मे भी लापरवाह रहा सचिव

वहीं आज जब कोरोना जैसी महामारी से बचाव के लिए चाहे शासकीय हो अशासकीय सब लोग अपनी -अपनी जान जोखिम में डालकर 24 घँटे सेवाएं दे रहे है ,वहीं ग्राम पंचायत रानीताल सचिव अनिल दाहिया द्वारा अपनी पंचायत के सोंपे गए जिम्मेदारी के निर्वाहन में लापरवाही की गई सचिव द्वारा मध्यप्रदेश पंचायत राज सेवा आचरण नियम 1998 के विपरीत कार्य किया जा रहा था,जिसके चलते सचिव अनिल दाहिया को जिला पंचायत सी ई ओ द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए ,सचिव की जगह रानीताल पंचायत का सचिवीय भार रोजगार सहायक सचिव भोजराज झारिया को सोंपा गया है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close