अपराधमध्य प्रदेश

लाखों रुपये लेकर बाइक में घूम रहे तीन संदेहियों को पुलिस ने पकड़ा,युवक ने कहा साली के यहाँ से चुराकर लाये थे रुपये

जबलपुर :वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस ने एक बाइक सवार को रोककर पूछताछ सुरु की तो लाखों रुपये के नोट निकल आये, अधारताल पुलिस ने वाहन चैकिंग के दौरान 17 लाख 76 हजार 900 रूपये पकडे़े है,पकड़े गए एक आरोपी का कहना है की उसने ये पैसे अपनी साली के यहाँ से चुराए है, फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है,गौरतलब है की पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा  प्रतिदिन शाम एवं रात्रि में स्थान बदल-बदल कर चैकिंग प्वाइंट लगाकर संदिग्धो की चैकिंग हेतु आदेशित किया गया है ,आदेश के परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर अगम जैन (भा.पु.से.) एवं नगर पुलिस अधीक्षक अधारताल अशोक तिवारी के मार्गदर्शन मंे थाना प्रभारी अधारताल महेन्द्र मिश्रा के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा वाहन चैेकिंग के दौरान 3 संदेहियो से 17 लाख 76 हजार 900 रूपये जप्त करने में महत्वपूर्ण सफलता हासिल हुई ।

इन आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा,

पुलिस द्वारा पकड़े गए संदेहीयों में ,             
(1) जितेन्द्र सिंह उर्फ बंग्गा पिता महेन्द्र सिंह पंजाबी उम्र 50 वर्ष निवासी सनातन धर्म मंदिर के पास गोरखपुर हाल बारामती गुरुद्वारा के पास मन. 735 बारामती जिला पूणे महराष्ट्र ,

(2) राजेश भसीन उर्फ पप्पू पंजाबी पिता जानकी राम भसीन उम्र 55 वर्ष निवासी बारामती जुना कचहरी के पास गुरुद्वारा पूणे महाराष्ट्र,

(3) इन्द्रपाल सिंह पिता स्व. अमरजीत सिह उम्र 40 वर्ष निवासी तुलसी नगर मोहित किराना के पास थाना रांझी जबलपुर

ये है पूरा मामला,

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक आज दिनांक 10.10.2020 की रात्रि लगभग 1 बजे रिछाई मोड महाराजपुर पर चेैकिंग की जा रही थी चैेकिंग के दौरान एक मोटर सायकिल क्रमांक एमपी 20 के पी 0258 को रोका गया  मोटर सायकिल मे 3 लोग सवार थे तीनों ने पूछताछ पर अपने नाम (1) जितेन्द्र सिंह उर्फ बंग्गा (2) राजेश भसीन उर्फ पप्पू पंजाबी (3) इन्द्रपाल सिंह  बताये,  तलाशी लेने पर बैग में 17 लाख 76 हजार 900 रूपये रखे मिले, रूपयों के सम्बंध में पूछताछ करने पर कोई संतोषजनक उत्तर नही दे पाये तथां गुमराह करने लगे उक्त रूपयों को धारा 102 जा.फौ. के तहत जप्त  करते हुये तीनों को थाना लाया गया।

साली के यहाँ से लाये थे चुराकर

वहीँ पुलिस द्वारा की गई सघन पूछताछ पर जितेन्द्र सिंह द्वारा बताया गया कि वह उक्त रूपये अपनी साली बाला सिंह के चोरी कर के लाया है जो कि रूपये लेकर  उसके घर आई हुई थी । जप्तशुदा रूपयों के संबंध मे कोई दस्तावेज प्राप्त न होने पर जप्त रूपये एवं जितेन्द्र सिंह, राजेश भसीन एवं इंद्रपाल सिंहको अग्रिम कार्यवाही हेतु इनकम टैक्स विभाग को मय डायरी के सुपुर्द किया जाता है ।

उल्लेखनीय भूमिका-  

थाना अधारताल में पदस्थ उनि. महेन्द्र मिश्रा, उनि सुरेन्द्र सिंह (थाना पनागर) ,पीएसआई महेन्द्र जयसवाल, प्रधान आरक्षक मनोज गोस्वामी, आरक्षक सुनील दुबे,  संजय दीक्षित की सराहनीय भूमिका रही ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close