अपराधमध्य प्रदेश

शराब खरीद कर पुलिस के चंगुल में फंस गया,नकली नोट बनाने वाला गिरोह

भोपाल :काम नहीँ था तो नकली नोट तैयार कर बाजार में चलाने के लिए गिरोह के सदस्य फैल गए लेकिन जैसे ही नकली नोटों से शराब खरीदी की तो पुलिस के चंगुल में फस गए मामला कोहेफिजा थाना क्षेत्र का है पुलिस ने नकली नोट बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए नोट छापने वाली मशीन सहित सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है,

ऐसे आया पकड़ में नकली नोट बनाने वाला गिरोह

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक दिनांक 18.07.2020 को सूचना पर 100-100/- रू0 के नकली नोट से शराब खरीदने वाले आरोपी मुकेश यादव एवं उसके सेठ संजय सिंह बुंदेला पिता राजेन्द्र सिंह बुंदेला के कब्जे से कुल 66000/- रू0 के नकली नोट व स्कार्पियो वाहन क्रं. MP11-CC-1598 जप्त कर आरोपियो को गिरफ्तार कर आरोपियो के विरूद्ध अप.क्रं. 455/20 धारा 489A, 489B, 489C भा.द.वि. पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया है।प्रकरण की विवेचना मे पाया गया कि कुछ व्यक्ति संगठित गिरोह के रूप मे नकली नोट बनाकर बाजार मे चला रहे है। उक्त संगठित गिरोह के सदस्यो की गिरफ्तारी हेतू थाना कोहेफिजा की पुलिस टीम द्वारा दिनांक 16.09.2020 को प्रभात चौराहा से आरोपी हबीब को हिरासत मे लेकर पुछताछ करने पर आरोपी द्वारा बताया गया कि लगभग दो माह पूर्व उसके परिचित खालिद कुरैशी द्वारा तबरेज नामक व्यक्ति से मिलवाया जिस पर दिनांक 18.07.20 को आरोपी हबीब को प्रभात चौराहा पर खालिद कुरैशी व तबरेज द्वारा एक लाख नकली नोट दिये थे जिसमे से हबीब द्वारा 32000/- के असली नोट के बदले 66000/- रू0 के नकली नोट पूर्व मे गिरफ्तार अपने साथी संजय सिंह बुंदेला को दे दिये थे। आरोपी तबरेज द्वारा जहांगीराबाद स्थित अपने मकान पर अंकित अहिरवार उर्फ केतन, आयुष पियाणी व संदीप शाक्या की मदद से मशीन से नकली नोट छापना बताया गया।आरोपी हबीब के खुलासे के आधार पर आरोपी अंकित अहिरवार उर्फ केतन, आयुष पियाणी व संदीप शाक्या को हिरासत मे लेकर पुछताछ की गई जिस पर उक्त तीनो आरोपियो द्वारा आरोपी तबरेज के मकान मे कलर फोटो काँपी मशीन से नकली नोट छापकर आरोपी हबीब को देना बताया व कुछ नोट बाजार मे चलाना बताया जिस पर आरोपियो के कब्जे से कलर फोटोकाँपी मशीन, कटर, स्केच पैन व 100-100 के लगभग 13000/- रू0 नकली नोट जप्त कर आरोपियो को गिरफ्तार किया गया है। आऱोपी खालिद कुरैशी थाना ऐशबाग के अपराधिक प्रकरण मे केंद्रीय जेल भोपाल मे बंद है। आरोपी तबरेज खान नि0 जहांगीराबाद की तलाश की जा रही है।आरोपी अंकित अहिरवार पूर्व मे भी वर्ष 2018 मे थाना ऐशबाग मे नकली नोट बनाने मे गिरफ्तार किया जा चुका है जो वह प्रकरण न्यायालय मे विचाराधीन है । फरार आरोपी तबरेज खान के विरूद्ध थाना जहांगीराबाद मे जुआं/सट्टा के अपराधिक प्रकरण दर्ज है। पुछताछ मे जानकारी प्राप्त हुई है कि आरोपी अंकित व तबरेज एक ही मोहल्ले मे रहते है जिनके द्वारा पैसे की आवश्यकता होने से अन्य आरोपियो के साथ गिरोह तैयार कर बड़ी मात्रा मे नकली नोट तैयार किये गये थे। आरोपी संजय सिंह बुंदेला के पकड़े जाने के बाद आरोपियो द्वारा नकली नोट तैयार करना बंद कर दिया व आरोपी हबीब पर दबाव बनाया गया कि वह पुलिस मे पकड़े जाने पर अन्य आरोपियो की जानकारी पुलिस को नही दे। उक्त गिरोह का भंडाफोड़ करने मे थाना कोहेफिजा के उपनिरीक्षक नितिन अहिरवार, सहायक उपनिरीक्षक मनोज यादव, आर0 श्रीकृष्णा कटारिया, आर0 अनुराग पटेल, आर0 संतोष, आर0 देवसिंह गुर्जर की सराहनीय भूमिका रही है।

ये आरोपी गिरफ्तार,

  1. हबीब पिता अजीज उम्र 39 वर्ष
    नि0 म.नं. 229, दशमेश नगर, अशोका गार्डन भोपाल, हालपता- चारखंबा, जबलपुर।
  2. अंकित अहिरवार उर्फ केतन पिता रमेश अहिरवार उम्र 24 वर्ष, नि0 म.नं. 8, लक्ष्मीगंज गल्ला मंडी जहांगीराबाद भोपाल।
  3. आयुष पियाणी उर्फ छोटू पिता अनिल पियाणी उम्र 30 वर्ष, नि0 एफ-1, ब्लाँक ए-10 राजीव आवास योजना भानपुर।
  4. संदीप शाक्या पिता रामलाल शाक्या उम्र 25 वर्ष नि0 उज्जैन रेलवे लाईन के पास झुग्गी प्रेम नगर छोला भोपाल।

फरार आरोपी- तबरेज खान निवासी जहांगीराबाद भोपाल

पूर्व मे गिरफ्तार आरोपी–

  1. संजय सिंह बुंदेला पिता राजेन्द्र सिंह बुंदेला उम्र 40 वर्ष नि0 ग्राम दरी, थाना मालथौन जिला सागर।
  2. मुकेश यादव पिता प्रेमनारायण यादव उम्र 33 वर्ष नि0 ग्राम दरी, थाना मालथौन जिला सागर।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close