बड़ी खबरमध्य प्रदेश

डेयरी,स्वीमिंग पूल,मकान,और अगरबत्ती के कारखाने पर चला प्रशासन का बुल्डोजर,ये है बजह

जबलपुर :कोरोना काल के बीच प्रशासन ने भूमाफिया द्वारा बनाये गए आलीशान मकान, अगरबत्ती के कारखाने स्वीमिंग पूल सहित डेयरी को ध्वस्त करने की कार्यवाही की है ,पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक भू-माफिया सूदखोर, एवं चिटफड कम्पनी के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत प्रशासन द्वारा आज दिनॅाक 29-7-2020 को जिला प्रशासन, पुलिस, एवं नगर निगम के द्वारा संयुक्त रूप से कार्यवाही करते हुये थाना रांझी अन्तर्गत ग्राम मोहनिया में भू माफिया एवं आपराधिक तत्वों द्वारा करीब सवा दो एकड शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा कर बनायी गयी दूध डेरी एवं अगरबत्ती कारखाने, स्वीमिंग पूल, तथा रहवासी मकान को ध्वस्त करने की कार्यवाही की गयी ।

जिला बदर की भी होगी कार्यवाही :

वहीं कलेक्टर जबलपुर भरत यादव (भा.प्र.से.) एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा  (भा.पु.से.) के निर्देश पर अपर कलेक्टर संदीप जी.आर. (भा.प्र.से.) एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उत्तर अगम जैन (भा.पु.से.),  एस.डी.एम. दिव्या अवस्थी, नगर पुलिस अधीक्षक रांझी  कौशल सिंह तहसीलदार  रांझी एवं थाना प्रभारी रांझी तथा नगर निगम अतिक्रमण दस्ता प्रभारी हमराह पुलिस बल एवं अतिक्रमण दस्ते को लेकर मोहनिया पहुंचे, तथा मोहनिया में सतीष सागर पिता रवि शंकर सागर उम्र 55 वर्ष निवासी मोहनिया द्वारा लगभग 3 हजार वर्ग फुट शासकीय भूमि पर कब्जा कर बनाये गये मकान को तथा शासकीय भूमि पर दिलशाद पिता अहमद अली खान उम्र 53 वर्ष  निवासी इंद्रा नगर अयैप्पा मंदिर के पास रांझी के निमार्णाधीन दूध डेरी , अगरबत्ती के कारखाने, स्वीमिंग पुल तथा मकान जो कि करीब 2 एकड में है को  जेसीबी के माध्यम से ध्वस्त किया गया है। उल्लेखनीय है कि सतीष सागर के विरूद्ध थाना रांझी में 8 अपराध जिसमे 6 अपराध धोखाधडी के एवं 1 मारपीट तथा 1 अपराध अपहरण का है पंजीबद्ध होकर न्यायालय मे विचाराधीन है। इसी प्रकार दिलशाद के विरूद्ध भी 5 अपराध धोखाधडी के थाना रांझी में पंजीबद्ध होकर न्यायालय मे विचाराधीन है। दोनों का जिला बदर का प्रकरण तैयार कर पेश किया जा रहा है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close