खास खबरमध्य प्रदेश

सहायक कलेक्टर ने गीत गाकर दिलाया छात्रों को वार्षिक परीक्षा की तैयारी करने का संकल्प

जबलपुर :जिला प्रशासन का ध्यान सभी विषयों पर है जिसमें बच्चों की परीक्षा और पढ़ाई भी शामिल है आखिर क्यों न हो छात्र ही तो देश का भविष्य है इसी के चलते साथी हाथ बढ़ाना, एक अकेला थक जाये तो मिलकर बोझ उठाना…..सहायक कलेक्टर सिद्धार्थ जैन ने इस प्रेरक गीत को गाकर कटियाघाट स्थित शासकीय हाई स्कूल के उन बच्चों में बीच जोश भर दिया जो इस वर्ष दसवीं बोर्ड की परीक्षा में शामिल हो रहे हैं । बच्चों ने भी श्री जैन का साथ देते हुए इस गीत को दोहराया और पढ़ाई को लेकर मदद करने का संकल्प लिया ।सहायक कलेक्टर सिद्धार्थ जैन उन अधिकारियों में शामिल है जिन्हें मेंटर के रूप में कलेक्टर भरत यादव ने जिले के ऐसे पन्द्रह हाई और हायर सेकेण्डरी स्कूलों के रिजल्ट सुधारने की कमान सौंपी है जहां पिछले वर्ष की बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम 30 फीसदी से भी कम रहा था । वर्ष 2018 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी सहायक कलेक्टर सिद्धार्थ जैन को कलेक्टर श्री यादव ने कटियाघाट स्थित शासकीय हाई स्कूल का मेंटर नियुक्त किया है ।
श्री जैन ने आज शुक्रवार की दोपहर इस शाला में पहुंचकर नवमी एवं दसवीं में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को वार्षिक परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए अनुशासित होकर कड़ी मेहनत करने की सलाह दी । उन्होंने अपने प्रेरक उद्बोधन में शाला के छात्र-छात्राओं से कहा कि यह उनके जीवन का महत्वपूर्ण पड़ाव है और यही वह अवसर भी है जब उन्हें यह तय करना है कि वे आगे क्या बनना चाहते हैं । वार्षिक परीक्षा के लिए बचे तीन महिनों में उन्हें पूरा समय पढ़ाई के लिए देना होगा और किताबों का गहराई से अध्ययन करना होगा ।
श्री जैन ने इस मौके पर शाला में अध्ययनरत बच्चों को अंग्रेजी, सामाजिक विज्ञान और गणित के पाठ पढ़ाये । उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा कि वे उन्हें अपना बड़ा भाई समझकर अपनी समस्यायें उनके सामने रख सकते हैं । जो सवाल या विषय उन्हें समझ में नहीं आ रहे हैं उनसे बार-बार पूछ सकते हैं । वो बार-बार इस शाला में बच्चों को पढ़ाने आयेंगे । उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि उन्हें अपने शिक्षकों से भी जब तक समझ में न आये बिना संकोच किये बार-बार सवाल पूछने चाहिए । सहायक कलेक्टर श्री जैन ने इस दौरान शाला के शिक्षकों से भी बच्चों को पढ़ाने के तौर-तरीकों की जानकारी ली । उन्होंने शिक्षकों से कहा कि बच्चों को मुखर बनायें और उन्हें सवाल पूछने के लिए प्रेरित भी करें ।
हालांकि शाला में शीतकालीन अवकाश था । इसके बावजूद बड़ी संख्या में बच्चे श्री जैन की क्लास में शामिल हुए । शाला प्राचार्य श्रीमती विनीता राय के मुताबिक करीब डेढ़ घंटे तक चली इस क्लास के लिए उन्होंने शीतकालीन अवकाश होने के बावजूद छात्र-छात्राओं को घर-घर जाकर बुलाया था । शाला प्राचार्य ने कहा कि सहायक कलेक्टर सिद्धार्थ जैन की आज की क्लास ने बच्चों को बोर्ड परीक्षा को लेकर उत्साह से भर दिया है । उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष दसवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा में शाला का रिजल्ट मात्र 24 फीसदी रहा । प्राचार्य ने बताया कि इस वर्ष रिजल्ट अच्छा आये इसके लिए शाला के शिक्षक भी बच्चों के साथ मेहनत कर रहे हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close