जरा हटकेमध्य प्रदेश

सड़क निर्माण के एक साल बाद ही,सड़क में गढ्ढे,दरारें हो रहा विकाश

जबलपुर :ग्रामों को शहरों तक जोड़ने के लिए सरकार द्वारा पीएम सड़क योजना के तहत सड़कों का जाल बिछाकर विकाश की गंगा बहाने की बात तो की जाती रही है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रो में निर्माण होने वाली प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत ठेकेदारों द्वारा निर्माण की जा रही अधिकांश सड़कें गुडवत्ता हीन बनाई जा रहीँ है,आज हम एक ऐसे ठेकेदार के बारे में आपको बताने जा रहे है, जिसने सड़क बनाई और दो चार – माह बाद ही सड़क की गुडवत्ता को लेकर ग्रामीणों ने ठेकेदार का विरोध किया इतना ही नहीँ ग्रामीणों ने तो ऐसे ठेकेदारों पर कार्यवाही की मांग भी की थी लेकिन साहब कौन अधिकारी इन गरीब ग्रामीणों की सुनता है, हम बात कर रहे लमकना से सलैया ,सगोड़ी तक सड़क बनाने वाले ठेकेदार की ,औऱ पूर्व में शिकायतों की लंबी कतार लिए लखनपुर से बघेली मार्ग झिंगरई से भीटा मार्ग ,आलसूर सिमरिया की इन ग्रामो को शहरों तक जोड़ने बनाई गई सड़को की गुडवत्ता पर हमेशा से ही ग्रामीणों ने सवाल उठाते हुए जांच की मांग की लेकिन जांच कागजो में जो हो गई ,तो हकीकत में क्या होगी ?अब ऐसे में सवाल उठता है की क्या यही विकाश है?

लमकना से सलैया सड़क में दरारें

ग्रामीणों का आरोप है की एक वर्ष पूर्व बनी जबलपुर के मंझोली तहसील के लमकना ग्राम को सलैया व सगोड़ी से जोड़ने बाली सड़क को खुद जगह -जगह से जोड़ने की नोबत आ गई है, सड़क में दरारें, और पटरी में पटे कचरे से लगता है ,ठेकेदार बरसात पूर्व का मेंटिनेश भूल गया है, लेकिन ग्रामीण ठेकेदार को याद दिलाकर मेंटिनेश की मांग कर रहे है, ग्रामीणों का कहना है की जन्मों के बाद गांव तक पक्की सड़क के दर्शन हुए तो लगा की हमारे भी अच्छे दिन आ गए हो लेकिन ठेकेदार ने इतनी अच्छी सड़क बनाई है की कहीँ ये सड़क दो चार बरसात में ही बह न जाये ,अब इस मामले में महाप्रबंधक पीएम सड़क योजना जबलपुर विनीत श्रीवास्तव का कहना है की जल्द ही सड़क की मरम्मत के लिए ठेकेदार को निर्देशित किया जायेगा ,

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close