खबर लगते ही बौखलाए सरपंच सचिव ने शिकायतकर्ताओं को धमकाया

शेयर करें:

 

जबलपुर:दबंगई की हद हो गई कहने को तो हमारे देश मे सरकार गरीबों को अपने हक की बात रखने व लड़ने की बातें कहती है ,यहाँ तक सरकार द्वारा लोगों की शिकायत के लिए 181 जैसी हेल्पलाइन भी बना रखी है लेकिन जबलपुर की मंझोली जनपद की वनखेड़ी पँचायत में अपने हक की लड़ाई लड़ते हुए मीडिया से अपनी समस्या बताना भी ग्रामीणों को महंगा पड़ गया,गौरतलब है की मंगलवार 12 जनवरी 2021 के दिन ग्राम के राजेन्द्र चौहान ,सुहगरानी,व मुकेश द्वारा india pol khol के माध्यम से प्रशासन को अपनी समस्या बताई थी जिसमें उन्होंने बताया था की ग्राम पंचायत वनखेड़ी के सरपंच व सचिव द्वारा पीएम आवास योजना में धांधली की जा रही है, सरकार की इस योजना का लाभ गरीब पात्र हितग्राहियों को नहीं मिल पा रहा है जबकि गांव में ही कई ऐसे लोग है जिनके दो मंजिला मकान बने है उनको भी पीएम आवास का लाभ मिल गया है, जबकि हम कच्चे व खपरैल घरों में रहते है, इतना ही नहीं सुहगरानी के 4 बेटे है,इनके दो खपरैल मकान जो की मिट्टी से बने थे बरसात के समय गिर गए थे लेकिन उन्हें इन गिरे मकानों की छतीपूर्ति  तक नहीं मिली पीएम आवास तो दूर की बात है,ग्रामीणों ने तो यहाँ तक बताया की ग्राम सचिव का तबादला भी हो गया था लेकिन सचिव पँचायत छोड़ने तैयार ही नहीं है,

ग्रामीणों को धमकाने पहुँच गए सरपंच सचिव,

वहीँ शिकायतकर्ता राजेंद्र चौहान ने फोन पर जानकारी दी की खबर लगने के बाद आज सुबह 11 बजे  सरपंच सचिव आये और जबरजस्ती हम लोगों से रजिस्टर में दस्तखत करवाने की बात कहने लगे साथ ही उनके द्वारा हम लोगों को धमकाया भी गया की खूब शिकायत करते हो अब तो तुम लोगों को पीएम आवास बिल्कुल भी नहीं मिलेंगे चाहे कुछ भी कर लो जहाँ शिकायत करना हो कर देना जनपद में हमारी चलती है अधिकारी सिर्फ सरपंच सचिव की सुनते है,

क्या शिकायत की थी ग्रामीणों ने देखें वीडियो ,

मंझोली की वनखेड़ी में पात्र हितग्राहियों को नहीं मिल रहे पीएम आवास