सट्टा किंग बिरजू अपने 15 सटोरियों के साथ गिरफ्तार,जिम की आड़ में खिलवाता था सट्टा 

शेयर करें:

 

जबलपुर:सट्टा किंग बिरजू को पुलिस ने उसके  15 सटोरियों के साथ गिरफ्तार कर लिया है बिरजू जिम की आड़ में सट्टा  खिलवाता था बताया जा रहा है की  बिरजू जबलपुर सहित 8 जिलो के सट्टे की खाईबाजी करता था , सट्टा किंग बिरजू महेश्वरी, सट्टा लिखने वाले अपने 15 सटोरियों सहित पकड़ा गया है ,

जिम की आड़ में चला रहा था सट्टे का अवैध कारोबार

वहीँ पुलिस अधीक्षक  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)* द्वारा जिले मे पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को संगठित जुआ, सट्टा खिलाने वालों को चिन्हित करते हुये प्रभावी कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया है।अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध  गोपाल प्रसाद खाण्डेल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर  अमित कुमार (भा.पु.से.) एवं नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली  दीपक मिश्रा के मार्ग दर्शन में क्राईम ब्रांच एवं कोतवाली पुलिस को सट्टा किंग बिरजू महेश्वरी सहित सट्टा लिखने वाले 16 सटोरियों को पकड़ने में महत्वपूर्ण सफलता हासिल हुई है।आज दिनाॅक 5-1-2021 को क्राईम ब्रांच को विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली की थाना कोतवाली अंतर्गत बिरजू महेश्वरी गोपाल बाग महेश भवन के थर्ड फ्लेार स्थित अपने फ्लैट में बहुत बड़े स्तर पर सट्टे की खाईबाजी कर रहा है।सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अगवत कराते हुये क्राईम ब्रांच एंव कोतवाली पुलिस के द्वारा संयुक्त रूप से घेराबंदी कर योजनाबद्ध तरीके से महेश भवन के थर्ड फ्लोर मे बिरजू महेश्वरी के फ्लेैट मे दबिश दी गयी फ्लैट के अंदर जिम हेतु मशीनें लगी हुई मिली, बिरजू महेश्वरी एवं 15 लडके मोबाईल पर बातचीत करते हुये सट्टा लिखते हुये मिले, मौके से नगद 13 हजार रूपये, 45 मोबाईल, जिसमें 17 टच स्क्रीन एवं 28 कीपैड है तथा 24 कैलकुलेटर एवं सैकड़ों की संख्या में डायरियाॅ मिली जिसमें सट्टे का हिसाब किताब लिखा हुआ है।सट्टे का मुख्य खाईबाज सट्टा किंग बिरजू उर्फ बृजकिशोर महेशवरी 58 वर्ष निवासी गोपाल सदन कोतवाली के अलावा सट्टा लिख रहे शैलेन्द्र तिवारी उम्र 25 वर्ष निवासी न्यू शोभापुर अधारताल, राजकुमार ठाकुर उम्र 25 वर्ष निवासी सांइस कालेज के पास पचपेढी, विकास श्रीवास्तव उम्र 27 वर्ष निवासी एमईएस कालोनी गोराबाजार, कमलेश यादव उम्र 29 वर्ष निवासी इंद्रा माके्र्रट जेसू पावर हाउस के पास, अभिषेक मार्को उम्र 26 वर्ष निवासी पीएनटी कालोनी विकास नगर विजय नगर, आकाश ग्रोशर उम्र 25 वर्ष निवासी सदर इंडियन काॅफी हाउस के पीछे कैंट, सचिन डेटिया उम्र 33 वर्ष निवासी निकिता अपार्टमेंट रसल चैक ओमती, ऋषि यादव उम्र 26 निवासी इंद्रा मार्केट पावर हाउस के पास सिविल लाईन, अमित मिश्रा उम्र 26वर्ष निवासी रसल चैक मस्जिद के पास, मयंक बनारसी उम्र 26 वर्ष एवं धवल बनारसी उम्र 19 वर्ष दोनो निवासी सिघई कालोनी कोतवाली, अभिषेक पिल्ले उम्र 28 वर्ष निवासी इंडियन काॅफी हाउस के पीछे सदर, सिधांत सिंह उम्र 26 वर्ष निवासी पाटबाबा के पीछे सिविल लाईन, सौरभ सिंह ठाकुर उम्र 27 वर्ष निवासी कंचनविहार कालोनी बरगी, अमित मलिक उम्र 26 वर्ष निवासी बंगाली कालोनी रांझी को पकड़ा गया, पूछताछ की गयी तो जबलपुर के अलावा जिला नरसिंहपुर, कटनी, सिवनी, सतना, उमरिया, मण्डला, दमोह के सट्टे की खाईबाजी करना स्वीकार किये।

45 मोबाईल,24 केलकुलेटर,13हजार नगद के साथ पकड़े गए सटोरिया,

वहीीँ पकड़े गये सटोरियों के कब्जे से 45 मोबाईल, जिसमें 17 टच स्क्रीन एवं 28 कीपैड है तथा 24 कैलकुलेटर एवं सैकड़ों की संख्या में डायरियाॅ जिसमें सट्टे का हिसाब किताब लिखा हुआ है तथा नगद 13 हजार रूपये जप्त करते हुये थाना कोतवाली में विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की जा रही है। जबलपुर जिले के अलावा अन्य जिलों के कौन कौन सटोरिये सट्टा किंग बिरजू महेश्वरी से जुडे हुये है, के सम्बंध में पूछताछ की जा रही है।आज रेड कार्यवाही में पकड़े जाने के पूर्व जबलपुर, नरसिंहपुर, कटनी, सिवनी, सतना, उमरिया, मण्डला, दमोह से 43 लाख रूपये का सट्टा लिखा जाना पाया गया है। उल्लेखनीय है कि बिरजू महेश्वरी जिम की आड़ में बडे स्तर पर सट्टे की खाईबाजी कर रहा था, साथ मे सट्टा लिखने वाले 15 युवकों के सम्बंध में पूछन्ेा पर लोगों को बताता था कि उसके परिचित है उसके यहाॅ जिम करने आते हैं। सट्टा लिखने वाले लडकों को 8 से 10 हजार रूपये महीना देता था जो दोपहर लगभग 2 बजे आते थे और रात लगभग 9 बजे चले जाते थे,बिरजू महेश्वरी पूर्व में भी सट्टे के प्रकरण मे थाना कोतवाली मे पकड़ा गया है।

*उल्लेखनीय भूमिका-* हाईटेक सट्टे के कारोबार में लिप्त मुख्य खाईबाज एवं अन्य 15 सटोरियों को सट्टा लिखते हुये रंगे हाथ गिरफ्तार करने में क्राईम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक गोपाल विश्वकर्मा, बालकिशन शर्मा, आरक्षक बलराम पाण्डे, अतुल गर्ग, सायबर सेल के आदित्य, एवं अभिषेक, कोतवाली के सहायक उप निरीक्षक संतराम बागरी की सराहनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक जबलपुर  सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.),ने टीम को नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।