बालश्रम और बाल भिक्षावृत्ति रोकने प्रभावी कार्रवाई करें अपर कलेक्टर

शेयर करें:

जबलपुर,बाल श्रम और बाल भिक्षावृत्ति को रोकने प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश अपर कलेक्टर संदीप जीआर ने आज सम्पन्न हुई जिला बाल संरक्षण समिति की बैठक में अधिकारियों को दिये हैं ।अपर कलेक्टर ने बैठक में कहा कि बच्चों से बाल भिक्षावृत्ति कराने वालों पर सख्त कार्यवाही की जाये। उन्होंने बाल भिक्षा वृत्ति को रोकने अभियान चलाने की जरूरत भी बताई तथा इसकी शुरुआत शहर के उन प्रमुख चौराहों से करने के निर्देश दिये जहाँ बच्चे भीख मांगते नजर आते हैं। अपर कलेक्टर ने कहा कि एक-एक कर शहर के सभी प्रमुख चौराहों को बाल भिक्षावृत्ति से मुक्त किया जाये।बैठक में उच्च न्यायालय की किशोर न्याय समिति द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन किये जाने की हिदायत भी अधिकारियों को दी गई। अपर कलेक्टर ने बाल संरक्षण योजना अंतर्गत संचालित बाल देखरेख संस्थाओं में ऑनलाईन शिक्षा की व्यवस्था करने जिला शिक्षा अधिकारी से कहा। उन्होंने महिला एवं बाल विकास, श्रम विभाग को कोर टीम बनाकर बाल श्रम को रोकने के लिये भी अभियान चलाने के निर्देश दिये गये। विभिन्न संस्थाओं में निवासरत 18 वर्ष से अधिक? आयु की मानसिक एवं शारीरिक रूप से अक्षम बालक- बालिकाओं हेतु पृथक से गृह खोलने के निर्देश संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय को दिये गये।
बैठक में अपर कलेक्टर संदीप जीआर मुख्य द्वारा बाल संरक्षण ईकाई एवं बाल कल्याण समिति के कार्यो की समीक्षा की गई । देखरेख संस्थाओं में निवासरत बच्चों के रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य संबंधी सुविधा उपलब्ध कराने हेतु समाज सेवियों उद्योगपतियों के माध्यम से फंड एकत्रित करने के निर्देश दिये गये साथ ही जिले में समस्त निजी एवं शासकीय चिकित्सालयों में पालना केन्द्र स्थापित किये जाने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिये गये।